• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • Indore - कांग्रेस नेताओं ने गुलाब देकर बंद करवाईं दुकानें, सिटी बस के आगे बैठे कार्यकर्ता
--Advertisement--

कांग्रेस नेताओं ने गुलाब देकर बंद करवाईं दुकानें, सिटी बस के आगे बैठे कार्यकर्ता

शहर चार दिन में दूसरी बार बंद रहा। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सपाक्स सहित विभिन्न संगठनों ने 7 सितंबर तो...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 03:31 AM IST
शहर चार दिन में दूसरी बार बंद रहा। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सपाक्स सहित विभिन्न संगठनों ने 7 सितंबर तो पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ कांग्रेस ने सोमवार को बंद रखा। दोपहर तक दुकानें, प्रमुख बाजार नहीं खुले। जो दुकानें, संस्थान खुले थे तो उन्हें नेताओं ने गुलाब की कली देकर बंद करवाया। कांग्रेस नेताओं ने सत्याग्रह किया, पैदल मार्च किया और बाइक रैली भी निकाली। मुख्यमंत्री का पुतला दहन भी किया। दोपहर 12 बजे तक पेट्रोल पंप भी बंद रहे।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के भारत बंद के आह्वान पर शहर के नेता सुबह से ही बंद करवाने निकल गए। राजबाड़ा पर सिटी बसें रोकने के लिए युवा नेता उसके आगे बैठ गए। इस दौरान डीएसपी डीके तिवारी से उनका विवाद भी हुआ। 20 मिनट तक बस नहीं चली। यहां शहर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष विनय बाकलीवाल, प्रभारी दीपक कपूर, पर्यवेक्षक निमिष शाह और अन्य नेताओं ने पैदल मार्च किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान विधायक जीतू पटवारी, अश्विन जोशी, तुलसी सिलावट, पं. कृपाशंकर शुक्ला, संजय शुक्ला, गोलू अग्निहोत्री, पंकज संघवी, राजेश चौकसे, राजूसिंह चौहान, शशि यादव, पिंटू जोशी आदि मौजूद थे।

राजबाड़ा पर मोदी जिंदाबाद के नारे भी लगा दिए महिला नेत्रियों ने, नृसिंह बाजार चौराहे के पास आगे निकलने के चक्कर में नेताओं की बाइक टकरा गई, सिंधी कॉलोनी में दुकानदार को दिया आटा-आलू

अपने इलाके में बंद करवाकर ताकत दिखाने पहुंचे राजबाड़ा, पहने पीएम-सीएम के मुखौटे


साकेत क्षेत्र में भी पहली बार दिखा असर, पार्षद पर सत्याग्रह के दौरान पानी फिंकवाने का आरोप

साकेत, तिलक नगर और इसके आसपास के क्षेत्रों में पहली बार बंद का असर दिखा। युकां जिलाध्यक्ष अमन बजाज और अन्य नेता रैली के रूप घूमते रहे। उधर, ब्लॉक अध्यक्ष अरविंद बागड़ी के नेतृत्व में विस क्षेत्र पांच में बंद करवाया। वहीं, महू नाके के पास एक नाश्ते की दुकान खुली मिली तो ने उन्हें गुलाब देकर बंद करने का आग्रह किया। राजीव विकास केंद्र के कार्यकर्ताओं ने अहिल्या प्रतिमा पर सत्याग्रह किया। अध्यक्ष देवेंद्रसिंह यादव ने आरोप लगाया कि इस दौरान पार्षद र|ेश बागड़ी ने कार्यकर्ताओं पर बोरिंग चालू करवाकर पानी फिंकवाया। हालांकि पार्षद ने इससे इनकार किया।