राजनीति / कांग्रेस का ट्वीट के जरिए भाजपा पर तंज, लिखा गंगा सफाई का ढोंग करने वालों, एक नज़र इस तरफ भी घुमा लो



मकर संक्रांति को लेकर शिप्रा में नर्मदा से पानी छोड़ा गया है। मकर संक्रांति को लेकर शिप्रा में नर्मदा से पानी छोड़ा गया है।
X
मकर संक्रांति को लेकर शिप्रा में नर्मदा से पानी छोड़ा गया है।मकर संक्रांति को लेकर शिप्रा में नर्मदा से पानी छोड़ा गया है।

  • मकर संक्राति के पहले शिप्रा में पानी आने को लेकर कांग्रेस ने किया ट्वीट
  • ट्वीट के जरिए भाजपा पर साधा निशाना, शिवराज को किया टैग

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 05:50 PM IST

इंदौर. मकर संक्रांति के एक दिन पहले सूखी शिप्रा नदी में पानी आने के बाद श्रेय लेने के साथ ही राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस ने एक ट्वीट कर भाजपा पर तंज कसते हुए लिखा - गंगा सफाई का ढोंग करने वालों,  एक नजर इस तरफ भी घुमा लो..! कांग्रेस ने यह ट्वीट करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को भी टैग किया है।

 

यह लिखा ट्वीट में - गंगा सफाई का ढोंग करने वालों, एक नजर इस तरफ भी घुमा लो..! कमलनाथ जी ने उज्जैन में क्षिप्रा नदी को स्वच्छ करने और नियमित जलप्रवाह का वादा किया और महज पांच दिन में परिणाम आपके सामने है। गंगा सफाई के नाम पर जनता का हजारों करोड़ बर्बाद करने वाले उज्जैन आएं और देखें-सीखें।

 

 

 

क्या है मामला : कांग्रेस सरकार बनने के बाद 5 जनवरी को शनिचरीअमावस्या पर शिप्रा के त्रिवेणी घाट पर स्नान के लिए हजारों श्रद्धालु पहुंचे थे। यहां वे शिप्रा में पानी नहीं देख मायूस हो गए थे। प्रशासन ने उनके स्नान के लिए फव्वारों की व्यवस्था की थी, लेकिन एनवक्त पर फव्वारे भी धोखा दे गए और मजबूरी में श्रद्धालुओं ने शिप्रा नदी में उतरकर कीचड़ युक्त पानी में स्नान कर परंपरा का निर्वहन किया था। श्रद्धालुओं की इस प्रकार की फजीहत के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उज्जैन कलेक्टर और संभागायुक्त काे बदल दिया था।

 

मुख्यमंत्री ने आदेश दिए थे कि मकर संक्रांति पर शिप्रा में हर हाल में पानी पहुंचना चाहिए। अमावस्या जैसी स्थिति नहीं बननी चाहिए। इसके बाद अधिकारियों ने पांच दिन की मशक्कत के बाद शिप्रा में नर्मदा का पानी पहुंचा दिया। जिससे शिप्रा प्रवाहमान हो गई। इसे लेकर ही कांग्रेस ने अब यह ट्वीट किया है।

COMMENT