--Advertisement--

कार्रवाई / सहायक आयुक्त के बैंक लॉकर से मिले 13 लाख के जेवर, कोर्ट ने तीन दिन की रिमांड पर सौंपा



शकुंतला डामोर को कोर्ट में पेश किया गया। शकुंतला डामोर को कोर्ट में पेश किया गया।
X
शकुंतला डामोर को कोर्ट में पेश किया गया।शकुंतला डामोर को कोर्ट में पेश किया गया।

  • लोकायुक्त पुलिस इंदौर ने डामोर को एक लाख 60 हजार रुपए के साथ पकड़ा था
  • डामोर जनजाति कार्य विभाग खरगोन की सहायक आयुक्त हैं

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 10:38 AM IST

इंदौर. लोकायुक्त पुलिस इंदौर के हाथों एक लाख 60 हजार रुपए के साथ पकड़ी गई जनजाति कार्य विभाग खरगोन की सहायक आयुक्त शकुंतला डामोर को जिला कोर्ट इंदौर ने तीन दिन रिमांड पर सौंप दिया। कोर्ट ने लोकायुक्त पुलिस को सहायक आयुक्त के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के भी आदेश दिए।

 

लोकायुक्त एसपी दिलीप सोनी के मुताबिक सहायक आयुक्त के रतलाम स्थित निवास की तलाशी में जमीन के साथ ही रतलाम में ही बैंक लाॅकर में 13 लाख रुपए के जेवर मिले हैं। अभी यह पता नहीं चल सका है कि सहायक आयुक्त के पास उक्त राशि कहां से आई थी।

गुरुवार को मानपुर टोल नाके के पास तलाशी में सहायक आयुक्त के बैग से 1.60 लाख रुपए मिले थे। पैसे के बारे में वे उचित जवाब नहीं दे सकीं इस कारण पैसे जब्त कर उनके खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम का प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार किया गया। सहायक आयुक्त को जिला कोर्ट इंदौर में पेश कर रिमांड मांगा गया, जिस पर विशेष न्यायाधीश जेेपी सिंह ने आरोपी को 10 दिसंबर तक रिमांड पर सौंप दिया।


स्वास्थ्य का ध्यान रखने के कोर्ट के आदेश : सहायक आयुक्त डामोर को कोर्ट में पेश किया गया, तब उनके वकील ने कहा कि डामोर हार्ट की पेशेंट हैं, उन्हें जमानत दी जाए। कोर्ट ने कहा कि चूंकि लोकायुक्त पुलिस ने रिमांड मांगा है, इसलिए जमानत अर्जी पर सुनवाई आज नहीं 10 दिसंबर को की जाएगी। कोर्ट ने आदेश में कहा कि रिमांड के दौरान डामोर के स्वास्थ्य का ध्यान रखा जाए।
 

सहायक आयुक्त ने कहा - पैसे चेकअप के लिए थे : पकड़े जाने के बाद पूछताछ पर डामोर का कहना है पैसे उनके स्वयं के हैं। शुक्रवार को इंदौर में एक निजी हास्पिटल में उनका चेक अप होना था। इसलिए वह पैसे लेकर इंदौर आ रही थीं। उनका यह भी कहना है कि पैसे एटीएम से निकाले थे। इस पर संबंधित बैंक से पत्र लिखकर जानकारी मांगी गई है।
 

डामोर के लाॅकर ने उगले 10 लाख के जेवर : रुपयों के साथ पकड़े जाने के बाद लोकायुक्त टीम ने उनकी संपत्ति की जानकारी ली तो एक फ्लैट मनोरमागंज इंदौर में व एक मकान सेलाना रोड रतलाम में मिला। शुक्रवार को डीएसपी लोकायुक्त दिनेश पटेल के नेतृत्व में टीम ने बापू नगर रतलाम में उनके घर की तलाशी ली तो सहायक आयुक्त के पति के नाम पर रतलाम के पास जुलवानिया गांव में दो बीघा जमीन और संयुक्त परिवार के नाम 20 बीघा पैतृक जमीन मिली। एक बैंक लाॅकर भी मिला। दोपहर में लाॅकर की तलाशी ली गई तो उसमें 417 ग्राम सोने और 1.90 किलो चांदी के जेवर मिले जिनकी कीमत 12.75 लाख रुपए है।


खरगोन के सरकारी कार्यालय की चेकिंग की गई : लोकायुक्त डीएसपी संतोषसिंह भदौरिया के नेतृत्व में टीम ने गुरुवार शाम डामोर को पकड़ा था। गिरफ्तारी के बाद डीएसपी भदौरिया शुक्रवार को डामोर को लेकर खरगोन पहुंचे। वहां डीएसपी लोकायुक्त प्रवीणसिंह बघेल एवं इंस्पेक्टर विजय चौधरी की टीम ने डामोर की मौजूदगी में उनके सरकारी कार्यालय और निवास की तलाशी ली किंतु कुछ खास नहीं मिला। डामोर के इंदौर के फ्लैट पर लोकायुक्त टीम पहुंची तो पता चला कि वह किराए से दिया हुआ है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..