इंदौर / सिक्योरिटी संचालक की संदिग्ध हालत में लाश मिली, परिजन ने हत्या की आशंका जताई, बोले- किसी बिल्डर से 18 लाख रुपए लेने थे

सुबह शव मिलने के बाद लोग मौके पर पहुंचे। सुबह शव मिलने के बाद लोग मौके पर पहुंचे।
संचालक रात में गार्डों से मिलने के बाद वहीं सो गए थे। संचालक रात में गार्डों से मिलने के बाद वहीं सो गए थे।
X
सुबह शव मिलने के बाद लोग मौके पर पहुंचे।सुबह शव मिलने के बाद लोग मौके पर पहुंचे।
संचालक रात में गार्डों से मिलने के बाद वहीं सो गए थे।संचालक रात में गार्डों से मिलने के बाद वहीं सो गए थे।

  • साकार सिटी मालवा काॅलेज के पास बायपास पर मिली लाश, गार्डों ने मिलने गए थे संचालक
  • पुलिस बोली- शरीर पर नहीं मिले चोट के निशान, पीएम रिपोर्ट के बाद ही कुछ कह पाएंगे

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 01:09 PM IST

इंदौर. बायपास स्थित मालवा काॅलेज के पास शनिवार सुबह एक सिक्योरिटी संचालक की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। परिजन ने हत्या का आरोप लगाते हुए बताया कि युवक को किसी बिल्डर से करीब 18 लाख रुपए लेने थे। वहीं, पुलिस के अनुसार प्रारंभिकतौर पर हार्ट अटैक से मौत होना लग रहा है।

पुलिस के अनुसार लसूड़िया थाना क्षेत्र के बायपास स्थित साकार सिटी, मालवा काॅलेज के पास शनिवार सुबह सिक्योरिटी संचालक दिनेश कुमार मिश्रा की लाश मिली। वे रात में गार्ड की जगह खुद ड्यूटी करने आए थे। रात में वे सोए, सुबह गार्ड ने उठाया, लेकिन वे नहीं उठे। इसके बाद पुलिस और परिजनों को सूचना दी गई। वे मूलत: यूपी के रहने वाले थे, यहां परिवार के साथ स्कीम नंबर - 78 में रहते थे। पुलिस का कहना है कि शव पर कोई चोट के निशान नहीं मिले हैं। पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

भाई बोला - रात को गार्ड की ड्यूटी करने पहुंचे थे

मृतक के भाई लवलेश मिश्र ने आरोप लगाया कि भाई बिल्डर के यहां सिक्योरिटी संचालित कर रहे थे। बिल्डर ने साढ़े तीन साल से रुपए नहीं दिए हैं, उससे 18 लाख रुपए से ज्यादा की लेनदारी है। शुक्रवार को बिल्डर ने फोन पर कहा कि एक रुपए नहीं दूंगा, ज्यादा बात की तो तेरा मर्डर करवा दूंगा। तुझसे जो बन पड़े कर ले। ये पूरी बातें उन्होंने अपने बच्चों को मैसेज में बताई थी। सिक्युरिटी गार्ड को रुपए नहीं देने पर वे रात में खुद ड्यूटी करने आए थे। बिल्डर ने कहा था कि यदि प्वाइंट पर कोई चोरी हुई तो तुझ पर पूरी बात डालूंगा। इसी से डरकर वे खुद रात में ड्यूटी करने आए थे। भाई ने बताया कि बिल्डर के बंगले, कॉलोनी सहित सभी जगह पर इनके ही गार्ड लगे हुए थे। इनके पास 100 से 150 गार्ड हैं, जिन्हें ये बिल्डर से रुपए नहीं मिलने के बाद भी उधर लेकर वेतन दे रहे थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना