--Advertisement--

एक रूम में साथ रहते थे दो दोस्त, जरा सी कहासुनी के बाद एक-दूसरे ने सीने में उतार दी गोली, लोग ने कहा- फिल्मी स्टाइल में हुआ डबल मर्डर

पुलिस ने दरवाजा खोला तो कमरे से मिला ये सब...

Dainik Bhaskar

Dec 01, 2018, 01:20 PM IST

गुड़गांव। (हरियाणा) गुड़गांव के मानेसर इंडस्ट्रियल क्षेत्र के कासन गांव में किराए पर रहने वाले दो युवकों के शव उनके कमरे में मिले। दोनों के शव के पास से दो देसी पिस्टल व कारतूस भी बरामद किए गए हैं। पुलिस ने दोनों युवकों की पहचान नारनौल व महेंद्रगढ़ निवासी के रूप में की है और दोनों के खिलाफ एक-एक हत्या का केस पहले ही चल रहा था। बताया जा रहा है कि इस कमरे में तीन युवक रह रहे थे, जब तीसरा युवक शुक्रवार सुबह ड्यूटी से कमरे पर पहुंचा तो मामले का खुलासा हुआ।

कहासुनी के बाद दोनों ने एक-दूसरे को मार दी गोली...

मानेसर इंडस्ट्रियल क्षेत्र उस समय हड़कंप मच गया, जब लोगों को पता चला कि कासन गांव के पास दो युवकों की हत्या की जानकारी मिली। मामले की जानकारी पुलिस को दी गई, जिसके बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारी के साथ-साथ फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी पहुंची। दरअसल पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया कि हरियाणा के महेंद्रगढ़ और नारनौल के रहने वाले तीन दोस्त सुभाष, विकास और विक्रांत मानेसर में एक किराए के मकान में रहते थे। डीसीपी मानेसर राजेश कुमार ने बताया कि विक्रांत मानेसर में ही एक निजी कंपनी में काम करता है, जबकि सुभाष और विकास कुछ दिन पहले ही विक्रांत के पास मानेसर आए थे। पुलिस के मुताबिक- रात में जब विक्रांत नौकरी पर चला गया तो सुभाष और विकास दोनों कमरे पर मौजूद थे, दोनों की आपस में को कोई कहासुनी हो गई, जिसमें दोनों ने एक-दूसरे को गोली मार दी।


फिल्मी स्टाइल में हुआ दोहरा मर्डर, दरवाजा अंदर से बंद था


ऐसा फिल्मों में ही देखने को मिलता है कि दो लोग आपस में पिस्टल तानते हैं दोनों आपस में गोली मार देते हैं। ऐसा कुछ मानेसर में हुए दोहरे हत्याकांड में भी हुआ है। पुलिस के अनुसार- कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था और दोनों युवकों के शव पड़े मिले। शव को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि पहले एक युवक ने दूसरे को छाती में गोली मारी होगी और दूसरे युवक ने विरोधी के सिर में गोली मारी, जिससे दोनों वहीं ढेर हो गए।


दोनों के खिलाफ चल रहा था हत्या का केस


थाना प्रभारी मानेसर ने बताया कि इस वारदात का खुलासा सुबह उस समय हुआ, जब सुबह 8 बजे विक्रांत ड्यूटी से वापस लौटा तो उसने देखा कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद है। उसने खिड़की से झांककर देखा तो सुभाष और विकास दोनों लहूलुहान हालत में मृत पड़े हुए हैं। विक्रांत ने मामले की जानकारी मकान मालिक को दी जिसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। पुलिस को कमरे से शराब की बोतलें, दो देसी पिस्टल और जिंदा कारतूस भी मिले हैं। डीसीपी ने बताया कि मरने वाले दोनों युवकों का आपराधिक रिकॉर्ड भी है। दोनों पर एक-एक हत्या का केस चल रहा है और विकास नामक युवक जेल में भी रह चुका है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended