इंदौर / डॉक्टर के साथ मारपीट के विरोध में सरकारी अस्पतालों के कर्मचारियों ने सांकेतिक हड़ताल की

विरोध प्रदर्शन करते डॉक्टर्स और अस्पताल के कर्मचारी।
X

  • बुधवार को सभी सरकारी अस्पताल के कर्मचारियों ने जताया विरोध
  • मेडिकल एक्ट का सख्ती से पालन कराए जाने की मांग

दैनिक भास्कर

Jan 15, 2020, 04:23 PM IST

इंदौर. सरकारी अस्पतालों में ड्यूटी पर कार्यरत डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ के लिए पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था नहीं होने से असामाजिक तत्व लगातार हमले कर रहे हैं। जिला अस्पताल के डॉ. अरुण पांडे के साथ 13 जनवरी को मरीज के परिजन द्वारा मारपीट की गई थी। इस घटना के विरोध में बुधवार को सभी सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों ने सांकेतिक हड़ताल की। इस दौरान सुरक्षा की मांग को लेकर नारेबाजी की गई।

मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. हेमंत दिवेदी का कहना है कि अस्पतालों में तैनात डॉक्टरों व अन्य स्टाफ की सुरक्षा के लिए यदि सरकार ने जल्द से जल्द उचित व्यवस्था नहीं की तो वे अनिश्चित कालीन हड़ताल पर भी जा सकते है। संघ की मांग है कि मेडिकल एक्ट का सख्ती से पालन कराए जाने के साथ ही जिला चिकित्सालय और अन्य चिकित्सालय में 24 घंटे सुरक्षा व्यवस्था हेतु पुलिस की तैनाती की जाए। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना