अपराध / लोन के नाम पर 4.56 करोड़ की धोखाधड़ी, वेयर हाउस संचालक समेत 10 फर्म पर ईओडब्ल्यू ने दर्ज की FIR

FIR on 10 firms including ware house operator in 4.56 crore fraud case
X
FIR on 10 firms including ware house operator in 4.56 crore fraud case

  • निरीक्षण पर जब स्टॉक नहीं पाया तो गड़बड़ी उजागर हुई
  • बैंक ऑफ इंडिया के मुख्य प्रबंधक की शिकायत पर कार्रवाई

दैनिक भास्कर

Oct 10, 2019, 02:12 PM IST

उज्जैन. कृषि उपज मंडी की 10 फर्म और वेयर हाउस संचालक के खिलाफ बुधवार को ईओडब्ल्यू उज्जैन ने 4.56 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का केस दर्ज किया। फर्मों द्वारा बैंक ऑफ इंडिया की सेठीनगर शाखा से वेयर हाउस रिसिप्ट के नाम पर फर्जी दस्तावेज से लोन लिया था। बैंक अधिकारियों ने वेयर हाउस का निरीक्षण करने पर जब वहां स्टॉक नहीं पाया तो गड़बड़ी उजागर हुई।

 

आर्थिक अपराध इकाई उज्जैन एसपी राजेश रघुवंशी ने बताया 2 फरवरी 2019 को बैंक के मुख्य प्रबंधक ललित कुमार आचार्य ने शिकायत की थी कि साल 2018 में इंदौररोड नवाखेड़ा स्थित नीलकृष्ण वेयर हाउस के मालिक किशोर जायसवाल ने वेयर हाउस रिसिप्ट पर लोन स्वीकृत कराए थे। जिसमें जायसवाल ने बैंक में ऋणदाताओं की तरफ से गारंटी दी थी। धोखाधड़ी की शिकायत की जांच में जायसवाल और 10 ऋणधारियों द्वारा बैंक अधिकारियों के साथ आपसी षडयंत्र रचकर बैंक में गिरवी रखी गई वेयर हाउस रिसिप्ट के स्टॉक को बैंक के संज्ञान में लाए बिना छलपूर्वक धोखाधड़ी से खुर्दबुर्द कर 4 करोड़ 56 लाख 93 हजार रुपए की धोखाधड़ी की गई।

 

ये हैं वे 10 फर्म, जिन्होंने फर्जी दस्तावेज देकर लोन ले लिया

  • संजोग इंटरप्राइजेस मल्टीपर्पस शॉप नंबर 6 के मालिक राजेंद्र चौऋषिया निवासी ऋषिनगर ने 82.94 लाख रुपए का ऋण फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत कर लिया था।
  •  सिमरन इंटरप्राइजेस के आशीष तारे निवासी ऋषिनगर ने इसी तरह 77.73 लाख रुपए का लोन लेकर गड़बड़ी की।
  •  शुभ लाभ इंटरनेशनल शॉप नंबर 8 के मालिक योगेंद्रसिंह राठौर निवासी ग्राम झुमकी ने 98.18 लाख रुपए का लोन लिया था।
  •  नागदा तहसील के लेकोड़ा गांव निवासी आत्माराम आंजना ने बैंक से 7.09 लाख रुपए का ऋण लिया था।
  •  बाबा अंगारेश्वर दुकान नंबर 156 के मालिक नीलेश जायसवाल को बैंक ने 24.01 लाख रुपए का ऋण दिया था।
  •  छाया इंटरप्राइजेस के मालिक पवन जायसवाल निवासी आगररोड बजरंगनगर ने 33.14 लाख रुपए का लोन लिया था।
  •  विशाल इंटरप्राइजेस के मालिक राजेश जायसवाल निवासी ताजपुर को बैंक ने 32.98 लाख रुपए का लोन दिया था।
  •  जय गुरुदेव ट्रेडर्स दूधतलाई के मालिक मनोज कोठारी निवासी उज्जैन को 34.14 लाख रुपए का लोन दिया था।
  •  केजीएन ट्रेडिंग कंपनी के मालिक इकबाल हुसैन उज्जैन को 33.31 लाख रुपए का लोन दिया गया था।
  •  मेसर्स विष्णुलाल उमराव सिंह के मालिक गोपाल कोठारी निवासी उज्जैन को भी बैंक ने 32.98 लाख रुपए का ऋण दिया था।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना