झांकी मार्ग / नृसिंह बाजार से गोराकुंड तक खतरनाक स्थिति में हैं आधे टूटे भवन, आज रात यहां से गुजरेगा लाखों लोगों का कारवां



यह स्थिति है सीतलामाता बाजार की यह स्थिति है सीतलामाता बाजार की
X
यह स्थिति है सीतलामाता बाजार कीयह स्थिति है सीतलामाता बाजार की

  • 6 फीट ऊंची कनात के पीछे अभी भी पड़ा है मलबा, जनता की सुरक्षा पर लगा है प्रश्नचिन्ह 
  • सड़क चौड़िकरण को लेकर निगम ने की है यहां तोड़फोड़ 

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 01:31 PM IST

इंदौर. अनंत चतुर्दशी पर आज रात पारंपरिक झांकी निकलेगी जिसमें लाखों लोग शामिल होते हैं, लेकिन सीतलामाता बाजार क्षेत्र में तोड़फोड़ के बाद जनता की सुरक्षा को लेकर प्रश्नचिन्ह अब भी बरकरार है। नृसिंह बाजार चौराहा से गोराकुंड तक आधे टूटे भवन खतरनाक स्थिति में है।

 

इंदौर नगर निगम ने यहां 6 फीट ऊंची कनात लागाई है जिसके पीछे मलबा गुरुवार दोपहर तक पड़ा हुआ था। कई दुकानें तो ऐसी हैं जिसका स्ट्रक्चर आधा टूटने के बाद खतरनाक स्थिति में हैं और इन दुकानों के आगे कनात भी नहीं लगी है। गुरुवार रात झांकी देखने के लिए यहां लाखों लोग जुटेंगे, ऐसे में लोगों को खतरनाक दुकानों भवनों में खड़े रहने से कैसे रोका जाएगा इस पर प्रश्नचिन्ह बरकरार है।


झांकियां डीआरपी लाइन से प्रारंभ होकर चिकमंगलूर चौराहा, जेल रोड, एमजी रोड, कृष्णपुरा छत्री, नंदलालपुरा, जवाहर मार्ग, गुरुद्वारा चौराहा, बंबई बाजार, नृसिंह बाजार चौराहा, सितलामाता बाजार, गोराकुंड चौराहा, खजूरी बाजार, राजबाड़ा, कृष्णपुरा पुल होते हुए समाप्त होगी। चल समारोह के इस मार्ग में नृसिंह बाजार चौराहे से सितलामाता बाजार-गोराकुंड तक का क्षेत्र खतरनाक है।


जल्दबाजी में की कार्रवाई
जनता के प्रतिनिधियों ने निगम के अधिकारियों से झांकी समारोह के बाद इस मार्ग पर तोड़फोड़ की कार्रवाई करने का निवेदन किया था लेकिन निगम ने जल्दबाजी दिखाते हुए यहां कार्रवाई कर दी। तब निगमायुक्त ने कहा था कि 12 सितंबर से पहले यहां का मलबा पूरी तरह से हटा लिया जाएगा और लोगों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा। इसके बावजूद गुरुवार दोपहर तक यहां की स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना