• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • Gangster threatened the businessman of Mumbai, then he transferred the betel nut to me.

मप्र / मुंबई के कारोबारी को गैंगस्टर्स ने धमकाया तो उन्होंने सुपारी मेरे ऊपर ट्रांसफर कर दी



Gangster threatened the businessman of Mumbai, then he transferred the betel nut to me.
X
Gangster threatened the businessman of Mumbai, then he transferred the betel nut to me.

  • धमकी मिलने के बाद चर्चा में आए इंदौर के उद्योगपति डॉ. बाहेती का आरोप
  • कहा- कारोबारी प्रशांत ने कॉल कर धमकी की बात मान भी ली

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 05:14 AM IST

इंदौर . उद्योगपति डॉ. रमेश बाहेती को मुंबई के गैंगस्टर्स से मिली धमकी के मामले में खुलासा हुआ है कि यह धमकी उन्हीं के साथ 15 साल से कारोबार में जुड़े मुंबई के कपड़ा उद्योगपति प्रशांत अग्रवाल ने दिलवाई थी। प्रशांत ने उन्हें कॉल कर यह बात स्वीकार भी कर ली। डॉ. बाहेती से उनके पारिवारिक संबंध थे। यह खुलासा डॉ. बाहेती ने ही किया है। इधर, एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने कहा है कि क्राइम ब्रांच की टीम गिरफ्तार आरोपी सूरज सेन से मिली जानकारी के आधार पर गैंगस्टर से जुड़े प्रथमेश परब, चिराग जोशी व जगदीश पटेल की भूमिका को भी तलाश रही है। जल्द आरोपियों के नाम बढ़ाए जाएंगे।

 

डॉ. रमेश बाहेती की जुबानी : प्रशांत कंपनी खरीदी का पेमेंट नहीं कर पाए तो बदमाशों से कहा- मुझसे पैसे वसूल लें : प्र शांत अग्रवाल कपड़ों के कारोबारी हैं। मुंबई से 120 किमी दूर तारापुरा में उनकी फैक्टरी है। मैं वहां ढाई करोड़ रुपए सालाना वेतन में चीफ मैनेजर था। 31 मार्च 2018 को इस्तीफा दे दिया था, क्योंकि प्रशांत कर्मचारियों को वेतन नहीं दे पा रहे थेे। तब हमारे रिश्तों में कोई खटास नहीं थी। प्रशांत हर 15-20 दिन में बात करते थे। कुछ समय पहले प्रशांत ने पीथमपुर में मेरी एसटीआई इंडिया लिमिटेड कंपनी (धागा तैयार करने वाली) 70 करोड़ रुपए में खरीदी थी।  प्रशांत ने अहमदाबाद की भी एक कंपनी खरीदी थी। वे अहमदाबाद की पार्टी काे भुगतान नहीं कर पा रहे थे। तब उन लाेगाें ने वसूली के लिए मुंबई के गैंगस्टर्स से संपर्क किया। इसमें मध्यस्थता मुंबई के ही चिराग जोशी ने की।

 

प्रशांत ने चिराग से संपर्क कर मेरा नाम बता दिया अाैर कहा कि उसके बकाया रुपए मुझसे वसूल कर लेंे। उसने मेरे माेबाइल नंबर अाैर बेटियों की जानकारी उन्हें दे दी। इसके बाद डेढ़ महीने से गैंगस्टर्स मुझे परेशान कर रहे हैं। जब बदमाशों ने लंदन, सिंगापुर और बेंगलुरू में रहने वाली मेरी बेटियों को नुकसान पहुंचाने को लेकर मुझे 16 जून को मैसेज भेजा तो मैंने एडीजी वरुण कपूर से शिकायत की। इसके बाद आरोपी सूरज सेन गिरफ्तार हाे गया। प्रशांत का नाम आया तो 12 जुलाई को उसने मुझे काॅल कर एक घंटे बात की। उसने कबूला कि अहमदाबाद की पार्टी का पेमेंट नहीं करने पर चिराग जोशी गैंगस्टर्स के जरिए उसे धमका रहा था। माली हालत ठीक नहीं होने पर प्रशांत ने उसकी सुपारी मुझ पर ट्रांसफर करवा दी। 
 

 

 

COMMENT