मप्र / बच्ची काे अगवा कर ले जा रहा था पड़ाेसी, सागर बस स्टैंड पर मिल गए उसके रिश्तेदार, गिरफ्तार



girl was kidnapped and taken away
X
girl was kidnapped and taken away

  • दाे दिन पहले अगवा रामगाेपाल विश्वकर्मा की 7 साल की बेटी माही रविवार काे संयाेग से सागर बस स्टैंड  मिली
  • संताेष की माेबाइल लाेकेशन के आधार पर इंदाैर से एक पुलिस टीम बच्ची के माता-पिता के साथ सागर आई थी

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2019, 04:36 AM IST

सागर| इंदाैर के सदर बाजार थाना क्षेत्र से दाे दिन पहले अगवा रामगाेपाल विश्वकर्मा की 7 साल की बेटी माही रविवार काे संयाेग से सागर बस स्टैंड पर उसी के रिश्तेदाराें काे मिल गई। उसे एक पड़ाेसी ही अपहृत करके ले जा रहा था। माही के ममेरे भाई-बहिन ब्रजेश अाैर डब्बाे अपने गांव रसेना जाने के लिए स्टैंड पर बस का इंतजार कर रहे थे। अाराेपी संताेष कुशवाहा भागने लगा ताे ब्रजेश ने उसे दबाेच लिया। बाद में उसे गाेपालगंज पुलिस के हवाले कर दिया गया। अाराेपी का पीछा कर सागर पहुंची इंदाैर पुलिस उसे अपने साथ ले गई है। 

 

अाराेपी की लाेकेशन मिलने पर सागर अाई इंदाैर पुलिस बेरंग लाैट गई थी
संताेष की माेबाइल लाेकेशन के अाधार पर इंदाैर से एक पुलिस टीम बच्ची के माता-पिता के साथ सागर अाई थी, लेकिन यहां बच्ची न मिलने पर बैरंग लाैट गई थी। बाद में गाेपालगंज पुलिस ने इंदाैर पुलिस से संपर्क किया अाैर बीच रास्ते से पुलिस सागर के लिए लाैटी। चर्चा है कि काेई एक अाैर शख्स बच्ची के अपहरण में शामिल है। फिराैती के लिए बच्ची के अपहरण की अाशंका है।

 

बच्ची काे दूध लाने दुकान पर भेजा, वहीं से उठाकर ले गया

 बच्ची ने बताया कि 8 नवंबर की सुबह अंकल ने मुझे दूध व पाेहा लाने के लिए दुकान पर भेजा था। बाद में वे भी दुकान पर अा गए अाैर मुझे अपने साथ ले गए। पुलिस के अनुसार रामगाेपाल मूलत: सागर के देवरी के रसेना गांव के रहने वाले हैं। वे इंदाैर में एल्युमीनियम की फैक्टरी में काम करते हैं। बच्ची काे छिपते-छिपाते सागर तक लाने में 48 घंटे बीत गए। उसने बच्ची काे कहां-कहां रखा, यह पता नहीं चल पाया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना