मप्र / स्वास्थ्य मंत्री सिलावट ने कहा- इस गलतफहमी में ना रहें कि मंत्री इंदौर के हैं तो कार्रवाई नहीं होगी



Health Minister Tulsi Silavat says will take action Against doctors
X
Health Minister Tulsi Silavat says will take action Against doctors

  • रविवार को सुबह-सुबह डॉक्टरों की क्लास ली
  • नवजात की मौत के मामले में मांगी जांच रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 06:36 PM IST

नीता सिसौदिया, इंदाैर. पिछले दिनों मल्हारगंज पॉलीक्लिनिक में नवजात को बिना एम्बुलेंस और बिना ऑक्सीजन के एमवायएच रैफर करने और बच्चे की मौत के तीन दिन बाद लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने डाॅक्टरों की क्लास ली। शहर के सारे अस्पताल प्रभारियों को बुलवाया गया और चेतावनी दे दी। उन्होंने कहा कि-इस गलतफहमी में नहीं रहे कि स्वास्थ्य मंत्री इंदौर के हैं तो कोई कार्रवाई नहीं होगी। बच्चों की मौत के मामले में तीन दिन में जांच कर रिपोर्ट सौंपे।

 

ये भी पढ़ें

Yeh bhi padhein

 

बैठक में सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जडिया, सिविल सर्जन डॉ. एम.पी. शर्मा सहित अस्पताल प्रभारी मौजूद थे। अधिकारियों ने जानकारी दी कि नवजात की मौत के मामले में नर्स को निलंबित कर दिया है। इस पर सिलावट ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि सिर्फ एक नर्स की ही गलती थी? जिस-जिस स्तर पर लापरवाही हुई हैं, उन सभी पर कार्रवाई की जाए। 
इसके अलावा उन्होंने सीएमएचओ को निर्देशित किया कि स्टाफ की अस्पतालों में पदस्थापना को लेकर विसंगति है। इसे दूर किया जाए। जहां स्टाफ कम हैं, वहां कर्मचारियों को भेजे। जिस अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ की कमी है, वहां जिला अस्पताल से स्त्री रोग विशेषज्ञ को भेजे। 


गौरतलब है कि इस माह तीन नवजात बच्चों ने अस्पताल की अव्यवस्था और स्टाफ की लापरवाही के कारण दम तोड़ दिया। इनमें से एक माता-पिता ने तो अधिकारियों को लिखित शिकायत की लेकिन दो मामले सामने ही नहीं आए। रैफर करने की आड़ में बच्चों की मौत की जानकारियां भी स्टाफ छिपा लेता है। इस कारण अस्पताल में रिकार्ड में यह मौत दर्ज नहीं की गई। दो अन्य बच्चों की मौत की जानकारी सामने आने के बाद सीएमएचओ ने जांच समिति गठित कर दी है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना