--Advertisement--

बहन ने ब्लैकमेल कर करवाई थी भय्यू महाराज की 2nd वेडिंग

शादी के एक महीने बाद दिए इंटरव्यू में भय्यू महाराज ने किया था पर्सनल लाइफ की से जुड़ी बातों का खुलासा।

Danik Bhaskar | Jun 19, 2018, 07:04 PM IST

इंदौर. पारिवारिक कलह से तंग आकर मध्यप्रदेश के गृहस्थ संत भय्यू महाराज ने कथित तौर पर खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। पुलिस ने उनके आश्रम से पिस्टल और एक सुसाइड नोट बरामद किया, जिसमें उन्होंने तनाव की वजह से यह कदम उठाने की बात लिखी थी। हालांकि यह कहा जा रहा है कि वे बेटी कुहू और दूसरी पत्नी के बीच संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था, जिसकी वजह से वे तनाव में थे। शादी के एक महीने बाद दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने शादी करने के पीछे की पूरी कहानी बयां की थी। DainikBhaskar.com उसी इंटरव्यू के अंश अपने रीडर्स को बता रहा है।

सोशल वर्क और मां-बेटी की जिम्मेदारी के बीच उलझे थे भय्यू महाराज

- दूसरी शादी करने के पीछे क्या वजह थी, इस सवाल पर उन्होंने कहा था, "मेरी पत्नी का जब देहांत हुआ, मेरी बेटी की उम्र काफी छोटी थी। साथ ही मेरी मां भूलने की बीमारी से ग्रसित थीं। इसी दौरान मेरे पिता का देहांत हुआ और फिर मेरा एक्सीडेंट। मैं समाज के कार्यों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को संभाल नहीं पा रहा था। इसी वजह से मुझे यह फैसला लेना पड़ा।"
- बता दें कि भय्यू महाराजजी की पहली पत्नी माधवी का निधन साल नवंबर 2015 में हार्ट अटैक की वजह से हुआ था।
- उस वक्त उनकी मां इतनी बीमार थीं कि वे न अपने हाथ से खाना खा पाती थीं और न कपड़े बदल पाती थीं। वहीं दूसरी तरफ बेटी भी काफी छोटी थी।

बहन ने किया था ब्लैकमेल

- भाई को दो साल तक दो चक्कियों में पिसता देख भय्यूजी महाराज की बड़ी बहन मधुमती बहुत परेशान थीं।
- उन्होंने इंटरव्यू में बताया था, "भइया बहुत परेशान रहते थे। 2-2 दिन तक खाना नहीं खाते थे। मां भी सीरियस थीं और मेरी भतीजी भी छोटी थी। मैं चाहती थी कि मेरे जाने से पहले मेरे भाई का घर दोबारा बस जाए। इसी वजह से मैंने उन्हें शादी करने के लिए जोर डाला।"
- शादी के लिए कैसे मनाया, इस पर मधुमती ने बताया था, "मैंने भाई को ब्लैकमेल किया था। मैंने कहा था कि जब तक शादी के लिए हां नहीं करोगे, मैं खाना नहीं खाऊंगी। मैंने दो दिन तक कुछ नहीं खाया था। जिद के आगे भाई को झुकना ही पड़ा।"

कैसे शादी के लिए मानी थी डॉ. आयुषी

- डॉ आयुषी ने बताया था, "मैं सोशल मीडिया मार्केटिंग प्रॉजेक्ट के तहत इनके संपर्क में आई थी। मेरे बहुत कम इनसे मुलाकात हो पाती थी। मैं इनके घर रोजाना जाती थी और इनकी मां के पास बैठती थी। इनकी बहन से भी काफी अच्छी दोस्ती हो गई थी।"
- "एक दिन अचानक से मधुमती अक्का ने मुझसे कहा कि मैं अपने भाई की शादी आपसे करना चाहती हूं। आप मुझे पसंद हैं। इनकी मां ने भी मुझसे यही बात कही थी। मैंने कहा था कि मैं सोचकर बताऊंगी। यह बात सिर्फ हम तीनों के बीच थी, भय्यूजी को कुछ नहीं पता था।"
- डॉ. आयुषी ने शादी के लिए हां कह दिया था। 30 अप्रैल 2017 को दोनों की शादी हुई।