--Advertisement--

1 माह में बदमाशों ने जलाई 40 गाड़ियां, लोगों ने शिंदे के साथ पहुंचकर थाने पर टांगी चूड़ियां

एक दिन में चार और एक माह में 40 से ज्यादा गाड़ियाें में आग लगाने और तोड़फोड़ किए जाने की घटनाओं से गुस्साए जनता क्वार्टर...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 04:37 AM IST
Indore - in one month the miscreants burnt 40 carts people arrived with shinde and got the towing bangles
एक दिन में चार और एक माह में 40 से ज्यादा गाड़ियाें में आग लगाने और तोड़फोड़ किए जाने की घटनाओं से गुस्साए जनता क्वार्टर कॉलोनी के रहवासियों ने शनिवार सुबह परदेशीपुरा थाने का घेराव कर दिया। इसकी भनक लगते ही भाजपा नेता और एमआईसी सदस्य चंदूराव शिंदे साथियों के साथ वहां पहुंचे। इस बीच रहवासियों ने थाने के गेट पर चूड़ियां बांध दी और पुलिस वालों को पहनने के लिए कहने लगे। इसका एक एएसआई ने विरोध किया तो भाजपा नेता चंदू शिंदे बीच में आ गए और एएसआई से बदसलूकी करने लगे। वहीं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी नेता पर कार्रवाई करने के बजाय एएसआई को समझाते रहे। रहवासी अतुल बोरकर ने बताया कि शुक्रवार रात एक्टिवा से आए तीन बदमाशों ने घर के बाहर खड़ी उनकी डिस्कवर बाइक, पड़ोसी सपना शर्मा की एक्टिवा, होंडा शाइन और बेकरी गली में खड़े लोडिंग वाहन में आग लगा दी। बदमाशों का हुलिया सीसीटीवी में आया है। इसके फुटेज भी पुलिस को दिए गए हैं। रहवासियों ने बताया कि दो बदमाशों के साथ एक युवती भी रहती है। ये लोग पाउडर का नशा करते हैं। रहवासियों के इनके नाम नांट्‌टू, साहिल व निधि बताया है। पुलिस ने नांट्‌टू और साहिल को पकड़ लिया है।

नेता-पुलिस आमने-सामने : एएसआई से बदसलूकी का आरोप, शिंदे बोले- नहीं की

लोगों का आरोप : बदमाशों से पुलिस की सांठ-गांठ

विरोध प्रदर्शन के दौरान भाजपा नेता चंदू शिंदे, जीतू यादव और बृजमोहन के आते ही कुछ रहवासियों ने पुलिस को भला-बुरा कहना शुरू कर दिया। लोगों का कहना था कि पुलिस बदमाशों को संरक्षण देती है। इस पर एएसआई मधुकर विश्वकर्मा ने कहा कि आप शिकायत लिखाने आए हो, लिखवाओ। हम कार्रवाई करेंगे, लेकिन भला-बुरा मत कहो। यह सुन कुछ लोग उन पर आक्रोशित हो गए।

अपमानित किया : आरोप लगाने से रोका था : एएसआई

एएसआई मधुकर विश्वकर्मा के मुताबिक, रहवासी रिपोर्ट लिखाने आए थे। मैंने उन्हें कार्रवाई करने का बोला तो नेता चंदू शिंदे के साथ खड़े कुछ लोग हमें अपमानित करने लगे। चंदू शिंदे भी भड़क गए। वहीं चंदू शिंदे का कहना था कि उन्होंने कोई बदतमीजी नहीं की। वहीं एएसपी प्रशांत चौबे का कहना था कि अभी मेरे पास शिकायत तो नहीं आई है, लेकिन जो फुटेज चल रहे हैं, उसके आधार पर जांच की जा रही है।

X
Indore - in one month the miscreants burnt 40 carts people arrived with shinde and got the towing bangles
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..