मंडे पॉजीटिव / अहमदाबाद के कांकरिया के बाद 56 दुकान भी बनेगा देश का क्लीन स्ट्रीट फूड हब



56 दुकान पर फूड हाइजीन का पालन सराफा व मेघदूत से बेहतर स्थिति में है। 56 दुकान पर फूड हाइजीन का पालन सराफा व मेघदूत से बेहतर स्थिति में है।
X
56 दुकान पर फूड हाइजीन का पालन सराफा व मेघदूत से बेहतर स्थिति में है।56 दुकान पर फूड हाइजीन का पालन सराफा व मेघदूत से बेहतर स्थिति में है।

सफाई के बाद अब सेहतमंद बनाने की पहल, नवंबर तक भेजेंगे प्रस्ताव

Sep 17, 2018, 01:07 AM IST

विकास सिंह राठौर, इंदौर. स्वच्छता में दो बार नंबर 1 आने के बाद अब शहर को सेहतमंद बनाने की पहल हुई है। खान-पान के शौकीनों की पसंदीदा जगह 56 दुकान को जल्द ही देश के क्लीन स्ट्रीट फूड हब का दर्जा मिल सकता है। खाद्य औषधि प्रशासन विभाग इसके लिए फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) को प्रस्ताव भेजने की तैयारी कर रहा है।

 

संभावना है कि 2019 में 56 दुकान को यह दर्जा मिल जाएगा। एफएसएसएआई ने खान-पान में उच्च गुणवत्ता उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से क्लीन स्ट्रीट फूड हब योजना शुरू की है। फिलहाल अहमदाबाद के कांकरिया लेक पर बने स्ट्रीट फूड मार्केट को यह दर्जा मिला है। सालभर में ऐसे 150 हब घोषित किए जाएंगे। पहले चरण में मध्यप्रदेश से इंदौर और भोपाल के स्ट्रीट फूड मार्केट के नाम भेजने की योजना है।

 

खाद्य औषधि प्रशासन भोपाल के जॉइंट कंट्रोलर ब्रजेश सक्सेना के मुताबिक जल्द ही 56 दुकान का निरीक्षण कर नवंबर तक इसका नाम एफएसएसएआई को भेजा जाएगा। सभी मापदंड सही पाए जाने पर इसे दर्जा दिया जाएगा, अन्यथा जो कमी होगी वो बताई जाएगी, इसे दूर करने के बाद दोबारा निरीक्षण होगा और फिर यह दर्जा मिलेगा, जो एक साल के लिए होगा
 

क्लीन फूड स्ट्रीट हब के लिए छह मापदंड पर खरा उतरना जरूरी : क्लीन फूड स्ट्रीट हब के लिए साफ किचन, खाना बनाने के लिए आरओ पानी का उपयोग, खाना बनाने और परोसने वालों के हाथ में दस्तानें, सिर में कैप, साफ कपड़े, खाना अगर नॉन डिस्पोजेबल में परोसा जा रहा है तो उनकी सफाई की बेहतर व्यवस्था, किचन और दुकान से लेकर बाहर तक सफाई की व्यवस्था, खाना बनाए जाने में गुणवत्तापूर्ण सामग्री का इस्तेमाल करना जरूरी है।
 

दावा मजबूत क्योंकि 56 दुकान पर पूरे होते हैं सफाई के सारे मापदंड : मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष स्वामी ने बताया इंदौर में तीन प्रमुख स्ट्रीट फूड मार्केट चिह्नित किए हैं, इनमें 56 दुकान, सराफा बाजार और मेघदूत के सामने का स्ट्रीट फूड मार्केट शामिल है। मापदंड में 56 दुकान सबसे आगे है।

 

यह ऐसा मार्केट है जो पूरे समय खुला रहता है। यहां दुकानों में फूड हाइजीन का पालन करते हुए किचन, स्टाफ, पानी जैसी सुविधाएं अन्य दो मार्केट से बेहतर है। यहां सभी पक्की दुकानें हैं, जिनमें किचन भी है, जबकि शेष दोनों मार्केट में ठेलों, गाड़ियों और स्टॉल पर दुकानें चलती हैं।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना