छात्रा ने सेनेटरी पैड की मांग की तो प्राचार्य ने घर कर दी शिकायत, पिता ने छुड़वा दिया कॉलेज, लड़की बोली- वह परिजनों के ताने सुन-सुनकर परेशान हो चुकी है... / छात्रा ने सेनेटरी पैड की मांग की तो प्राचार्य ने घर कर दी शिकायत, पिता ने छुड़वा दिया कॉलेज, लड़की बोली- वह परिजनों के ताने सुन-सुनकर परेशान हो चुकी है...

इंदौर न्यूज: छात्रा ने शिक्षा मंत्री को सुनाई अपनी पीड़ा... बोली-अब आप ही कुछ करो सर...

Bhaskar News

Jan 13, 2019, 11:08 AM IST
Indore News girl student demanded sanitary pad then principal lodged complaint

इंदौर। शासकीय निर्भयसिंह पटेल विज्ञान महाविद्यालय की छात्रा ने कॉलेज में सेनेटरी पैड वेंडिंग मशीन दोबारा लगाए जाने के साथ कॉमन रूम बनवाए जाने की मांग की। इसे लेकर दिसंबर में अन्य छात्राओं के साथ कॉलेज में प्रदर्शन भी किया। इस पर प्रभारी प्राचार्य डीडी महाजन ने छात्रा के घर तीन बार पत्र भेजे और पालकों को बुलाकर शिकायत की कि आपकी बेटी कॉलेज में राजनीति कर रही है। इस पर माता-पिता ने बच्ची को 25 दिन पहले से कॉलेज आना बंद करवा दिया। छात्रा ने शनिवार को उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी को अपनी पीड़ा बताई।


बीएससी सेकंड ईयर की छात्रा चेतना सिसौदिया मंत्री पटवारी के पास शिकायत लेकर पहुंची तो रुआंसा हो उठी। उसने बताया कॉलेज परिसर में पहले छात्राओं के लिए एक कॉमन रूम था। उसे प्राचार्य ने अपना कक्ष बना लिया। इसके बाद सेअलग कॉमन रूम नहीं बनाया गया।

छात्रा मंत्री जी से बोली- वह परिजनों के ताने सुन-सुनकर परेशान हो चुकी है
इसके कारण कई दफा उसे और कॉलेज की अन्य छात्राओं को व्यक्तिगत कारणों के कारण क्लास अधूरी छोड़कर घर जाना पड़ता है। छात्रा चेतना ने बताया कि उसके माता-पिता के नाम जो पत्र कॉलेज प्राचार्य ने पहुंचाया उसमें बताया गया कि वह राजनीति करती है और बाहरी लोगों को लेकर परिसर में आती है। इस पर पिछले 25 दिनों से वह परिजनों के ताने सुन-सुनकर परेशान हो चुकी है। वहीं, एक बार वह भंवरकुआं थाने पर बयान देने भी जा चुकी है। इस पर मंत्री पटवारी ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे इस बारे में कलेक्टर को निर्देशित करेंगे ताकि उनकी परेशानी दूर हो सके।


छात्रों ने की डीआईजी को शिकायत
निर्भय सिंह पटेल कॉलेज की छात्राओं के साथ कॉलेज प्रबंधन द्वारा लगातार किए जा रहे अभद्र व्यवहार और उनकी समस्याओं का निराकरण नहीं किए जाने को लेकर शनिवार को छात्राें ने डीआईजी को लिखित में शिकायत की है। उसमें कहा गया है कि 14 दिसंबर को एबीवीपी के सहयोग से छात्रों ने अपनी समस्याओं को प्राचार्य के समक्ष रखा था, लेकिन उसका कोई निराकरण नहीं किया गया। उल्टा उनके नाम पर रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए भंवरकुआं पुलिस को पत्र लिख दिया गया।



X
Indore News girl student demanded sanitary pad then principal lodged complaint
COMMENT