पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जहां बच्चे भर्ती रहते हैं, वहां अक्सर आ जाता है सांप, वार्ड की खिड़की पर लहराता रहता है

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • देपालपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का मामला
  • स्टाफ कई बार कर चुका है खिड़की पर जाली लगवाने की मांग
Advertisement
Advertisement

इंदाैर. देपालपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती बच्चों और स्टाफ की जान पर उस समय बन आई जब वहां बनी खिड़की पर एक लंबा सांप लहराने लगा। कांच का शटर लगा होने के कारण वह अंदर नहीं आ सका लेकिन काफी देर तक वहीं लहराता रहा। यह सिर्फ एक दिन की कहानी नहीं है। अकसर वहां ऐसा ही होता रहता है। कई बार तो वॉशरूम में लगे पाइप के जरिए वह अंदर तक आ गया।

देपालपुर के स्वास्थ्य केंद्र में 10 बेड की क्षमता का पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) है। हाल ही में यहां एक सांप खिड़की में आ गया। जिसे देखकर वहां का स्टाफ और बच्चों की मां डर गई। इस डर की एक वजह यह भी है कि वहां कई बार ऐसा हो चुका है। सांप के डर से ही खिड़की पर कांच का स्लाइड शटर लगवाया गया।

हालांकि, इसे लेकर स्टाफ ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि \"यदि गलती से थोड़ी सी भी शटर खुली रह जाए तो यहां सबकी जान सांसत में आ सकती है। हम खिड़की नहीं खोल सकते हैं। बार-बार खिड़की पर ही ध्यान जाता है। कई बार जाली लगवाने के लिए कह चुके हैं। इसके पहले वॉशरूम में पानी निकासी के लिए लगे पाइप के सहारे अंदर तक आ गया था। लिखित में भी शिकायत की है। नाली में भी जाली लगवाने की मांग कर चुके हैं। हम घबरा जाते हैं। माएं घबरा जाती है\'

उधर, इस मामले में विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डाॅ. चंद्रकला पंचाेली ने बताया कि स्वास्थ्य केंद्र के आसपास खुला मैदान है। पीछे की ओर खेत है। कर्मचारियों के क्वार्टर भी परिसर में ही है। कई बार यहां सांप निकल जाता है। एनआरसी की लिखित शिकायत नहीं मिली हैं लेकिन हमनें वहां कांच की खिड़की लगवा दी है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस. सिसोदिया भी एक बैठक लेने गए थे, जब वहां भी स्टाफ ने यह समस्या बताई थी। जिसके बाद जाली लगवाने के निर्देश भी दिए गए थे।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement