मप्र / कांग्रेसी नेता ने गृहमंत्री बाला बच्चन के आश्वासन के बाद आत्मदाह की घोषणा वापस ली

कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव। कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव।
X
कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव।कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव।

  • शहर में धारा 144 लगी होने के बाद भी कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया था
  • इसी मामले को लेकर पुलिस ने कांग्रेसियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है

दैनिक भास्कर

Nov 14, 2019, 01:05 PM IST

इंदौर. अपनी ही सरकार में पुलिस-प्रशासन पर भेदभाव का आरोप लगाकर आत्मदाह की घोषणा करने वाले कांग्रेस नेता देवेंद्र सिंह यादव के सुर गुरुवार को बदले से नजर आए। उन्होंने कहा कि गृहमंत्री बाला बच्चन के आश्वासन के बाद मैंने आत्मदाह करने के फैसले को टाल दिया है। गृहमंत्री ने कहा है कि मामले में वे मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात करेंगे और खुद इसकी जांच करवाएंगे। बता दें कि शहर में धारा 144 लगी होने के बाद भी कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया था, जिसके बाद पुलिस ने कुछ को हिरासत में लेकर इनके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया था। 

 

वहीं, गृहमंत्री बाला बच्चन ने मामले को लेकर कहा कि देवेंद्र यादव गांधी परिवार की केंद्र सरकार द्वारा एसपीजी सुरक्षा हटाने को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। 28 साल से उन्हें यह सुरक्षा दी जा रही थी, फिर ऐसी क्या मजबूरी थी कि सरकार को उनकी सुरक्षा व्यवस्था को हटाना पड़ा। देवेंद्र यादव इसी बात को लेकर िवराेध प्रदर्शन कर रहे थे। वे हमारे अच्छे कार्यकर्ता हैं। उनके द्वारा आत्महत्या की जो घोषणा की गई थी, उस दौरान जो भी परिस्थितियां बनी होगीं उसे मैं देखता हूं।  

 

वहीं, कांग्रेस नेता देवेंद यादव ने कहा कि गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने को लेकर हमने 9 नंवबर को पुतला दहन का कार्यक्रम आयोजित किया था, लेकिन अयोध्या फैसला आने के कारण इसे आगे बढ़ाकर 10 तारीख कर दिया। 10 को मुस्लिम समाज का कार्यक्रम था, इसलिए 11 तारीख को पुलिस अधिकारियों की मौखिक सहमति से हमने प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया। मैं नरेंद्र मोदी, शिवराज सिंह चौहान और उमा भारती के कई बार पुलिस की मौखिक सहमति से पुतलों का दहन कर चुका हूं। मैंने हजारों आंदोलन किए और जेल भी गया। पुतला दहन के दौरान पुलिस के एक भी उच्च अधिकारी नहीं थे। पुतला दहन के बाद धक्का-मुक्की के बाद मैं होद में गिर गया और मुझे चोट आई। मेरी मांग है कि पुलिस ने सहमति दी फिर क्यों हमारे खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया। प्रशासन कांग्रेसियों के साथ भेदभाव कर रहा है। मैंने गृहमंत्री के आश्वासन के बाद आत्मदाह की घोषणा वापस ले ली है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना