Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» अधिकारियों की लापरवाही सेे पांच हजार समाजजन योजनाओं और लाभ से वंचित

अधिकारियों की लापरवाही सेे पांच हजार समाजजन योजनाओं और लाभ से वंचित

मई 2016 में हो गए थे आदेश पर अधिकारियों ने नहीं दिया ध्यान भास्कर संवाददाता | पुंजापुरा गुजराती पटेलिया समाज के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 13, 2018, 02:10 AM IST

मई 2016 में हो गए थे आदेश पर अधिकारियों ने नहीं दिया ध्यान

भास्कर संवाददाता | पुंजापुरा

गुजराती पटेलिया समाज के पांच हजार से अधिक लोग देवास जिले में सामान्य वर्ग में आते हैं, जबकि धार और झाबुआ जिलों में उन्हें अनुसूचित जनजाति में शामिल किया गया है। इस संबंध में आदिम जाति कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ. केएन पांडे को सीएम द्वारा निर्देशित भी किया गया था। मामले की जांच करके 6 मई 2016 को राजस्व विभाग में सुधार करने का पत्र जारी किया लेकिन उक्त आदेश का अभी तक पालन नहीं किया गया। समाज के करीब चार सौ से अधिक पढ़े-लिखे युवक-युवतियों को शासन की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। अब इस समाज के लोगों ने 15 जून से आंदोलन चेतावनी दी है। राजस्व रिकार्ड में गुजराती पटेलिया समाज को सामान्य वर्ग में उल्लेख होने के कारण कई परिवार के सदस्य शासकीय सेवा में पदस्थ होने से वंचित हो गए। कई परिवारों के बच्चे उच्च शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाए। उदयनगर तहसील के दड, देवनालिया, धायडी तालाब, महीगांव, बेरखेड़ी व सेमली गांव में गुजराती पटेलिया समाज के ग्रामीण निवास करते हैं।

राजस्व रिकार्ड में सुधार के लिए 15 जून से आंदोलन करेंगे समाजजन

प्रमाण पत्र नहीं होने से पुलिस में नहीं हो पाया चयन

कविता पिता इंदर ने बताया कि 2017 में पुलिस विभाग में चयन हो गया लेकिन अनुसूचित जन जाति का प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं कर पाने के कारण नौकरी से वंचित रही। इसी प्रकार पूजा व गोपाल ने बताया कि 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करके उच्च शिक्षा के लिए बाहर अध्ययन नहीं कर पाया, क्योंकि सामान्य वर्ग के कारण आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से पढ़ाई प्रभावित हुई।

आंदोलन के लिए सौंपा ज्ञापन

छह गांव के ग्रामीणों ने उदयनगर तहसील कार्यालय पर 15 जून से धरना के लिए बागली एसडीएम को कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया। कहा जब तक रिकार्ड में सुधार नहीं होगा आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान सरपंच केशरसिंह चौहान, कालू, भारत, राजू, धन्नालाल, संजय, महेश, शोभाराम, नारायण आदि मौजूद थे।

कार्रवाई के निर्देश दिए हैं

उदयनगर तहसीलदार को पटेलिया समाज के ग्रामीणों के दस्तावेज प्राप्त करके मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। शीघ्र ही समाज के लोगों की समस्या का समाधन करेंगे।’ रानी बंसल, एसडीएम बागली

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×