इंदौर

--Advertisement--

हाटपिपल्या-बागली के लिए नदी आधारित योजना तैयार

भास्कर संवाददाता | हाटपिपल्या/बागली हाटपिपल्या व बागली विधानसभा लोगों के लिए अच्छी खबर है। मप्र शासन द्वारा...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 02:10 AM IST
भास्कर संवाददाता | हाटपिपल्या/बागली

हाटपिपल्या व बागली विधानसभा लोगों के लिए अच्छी खबर है। मप्र शासन द्वारा नगर परिषद की महती पेयजल योजना कार्यरूप में परिणित होने के अंतिम चरण में है। जिले में पहली बार बोरवेल आधारित योजना के स्थान पर नदी आधारित योजना तैयार की गई है। जिसमें क्षेत्र की प्रमुख कालीसिंध नदी को आधार बनाया गया है। जिससे दोनों नगर परिषदों को जलसंकट से निजाद मिल सकेगी। योजना लोकार्पित होने के बाद जल भंडारण की अवधारणा समाप्त होगी और रहवासियों को 24 घंटे पानी मिलेगा। जिसमें मीटर के आधार पर जलकर की बिलिंग होगी।

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री पेयजल योजना के तहत निर्मित स्कीम में आगामी 30 वर्षों के दौरान बढ़ने वाली जनसंख्या को लक्ष्य किया गया है। इस अनुसार यह योजना वर्ष 2048 तक प्रासंगिक रहेगी। योजना की अनुमानित लागत लगभग 50 करोड़ है। जिसमें बागली का हिस्सा 18.20 करोड़ है और शेष हाटपीपल्या का। पेयजल योजना के लिए कालीसिंध नदी पर स्टॉप डेम का चैनल निर्मित होगा। जिसमें देवगढ़ के समीप नदी पर दो और मोखपिपल्या में एक स्टॉप डेम का निर्माण होगा। साथ ही नदी का जल संग्रहण क्षेत्र बढ़ाने के लिए उसकी गाद भी निकाली जाएगी।

दोनों का फिल्टर प्लांट एक ही रहेगा : योजना के तहत जल प्रदाय के लिए हाटपिपल्या का संयुक्त फिल्टर प्लांट निर्मित होगा। जिसका निर्माण हाटपिपल्या के राजेंद्रनगर में होगा। पानी के फिल्टर होने के बाद बागली के हिस्से का जल उसे दे दिया जाएगा। योजना में दोनों नगर परिषदों में विभिन्न स्थानों पर टंकियों का निर्माण होगा। जिससे सभी घरों के समान दबाव अनुसार जल वितरण होगा।

जल्द योजना फ्लोअर पर होगी


योजना के सभी दस्तावेज जमा कर दिए गए हैं


X
Click to listen..