Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» आजाद के जन्मदिन व बलिदान दिवस पर एक पखवाड़े के कार्यक्रम होना चाहिए : राज्यपाल

आजाद के जन्मदिन व बलिदान दिवस पर एक पखवाड़े के कार्यक्रम होना चाहिए : राज्यपाल

भास्कर संवाददाता | चंद्रशेखर आजाद नगर अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली पर आज मुझे आने का अवसर मिला। उनके...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 15, 2018, 02:10 AM IST

आजाद के जन्मदिन व बलिदान दिवस पर एक पखवाड़े के कार्यक्रम होना चाहिए : राज्यपाल
भास्कर संवाददाता | चंद्रशेखर आजाद नगर

अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली पर आज मुझे आने का अवसर मिला। उनके स्मृति मंदिर जाकर पता चला की कम उम्र में देश की आजादी में अहम योगदान देने वाला बालक कितना साहसी व वीर था। आजाद के जीवन से प्रेरणा के लिए और बच्चों व युवाओं में देशप्रेम की भावना जागृत करने के लिए जन्मदिन व शहीद दिवस पर एक पखवाड़े के कार्यक्रम यहां होना चाहिए। यह बात पहली बार नगर आगमन पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आजाद स्मृति मंदिर में कही।

राज्यपाल पटेल ने 3 करोड़ 40 लाख रुपए की लागत से बने शासकीय महाविद्यालय भवन का लोकार्पण किया। लोकार्पण के दौरान उन्होंने कॉलेज में संचालित फेकल्टी व दर्ज बच्चों की जानकारी ली। कामर्स विषय में संख्या कम होने पर उसे बढ़ाने व व्यवसायिक महत्व को समझाने की बात कही। विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ कौशल विकास के तहत कम्प्यूटर, मोबाइल व सिलाई जैसे व्यावसायिक प्रशिक्षण अपनाने की सलाह दी।

इस दौरान नगर के शासकीय विद्यालय के कक्षा 12वीं, जेईई व नीट परीक्षा में श्रेष्ठ परिणाम देने वाले बच्चों को राज्यपाल ने मेडल पहनाकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में विधायक माधौसिंह डावर ने नगर का नाम संस्कृति विभाग के पटल पर दर्ज करने व आजाद के नाम पर आजाद पार्क बनाने के लिए अनुशंसा की मांग की।

फलों से किया राज्यपाल का स्वागत-राज्यपाल पटेल का स्वागत फलों की टोकनी भेंटकर विधायक माधौसिंह डावर, भाजपा जिलाध्यक्ष राकेश अग्रवाल, नगर पंचायत अध्यक्ष निर्मला डावर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कला भूरिया, मनीष शुक्ला, जनपद अध्यक्ष कमना मावी, कॉलेज प्राचार्य एसएस डोडवे ने किया। आभार नगर पंचायत अध्यक्ष निर्मला डावर ने माना।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×