• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Indore
  • News
  • बागली में 2283 किसानों को उपज के 2 करोड़ 88 लाख 27495 रुपए का बोनस मिला
--Advertisement--

बागली में 2283 किसानों को उपज के 2 करोड़ 88 लाख 27495 रुपए का बोनस मिला

चापड़ा| इस वर्ष सेवा सहकारी संस्था चापड़ा व आदिम जाति संस्था कमलापुर के अंतर्गत इस वर्ष 1158 किसानों ने समर्थन मूल्य...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 02:10 AM IST
बागली में 2283 किसानों को उपज के 2 करोड़ 88 लाख 27495 रुपए का बोनस मिला
चापड़ा| इस वर्ष सेवा सहकारी संस्था चापड़ा व आदिम जाति संस्था कमलापुर के अंतर्गत इस वर्ष 1158 किसानों ने समर्थन मूल्य पर 53397 क्विंटल गेहूं तुलवाया था, जिनका बोनस के रूप में 265 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से 1,41,50205 रुपए 9 जून को ही किसानों के खाते में जमा कर दिए गए। सेवा सहकारी संस्था के प्रबंधक राजेशसिंह राजपूत ने बताया कि इस वर्ष संस्था के अंतर्गत आने वाले 779 किसानों ने 33976 क्विटंल गेहूं तुलवाया था, जबकि पिछले वर्ष 700 किसानों ने 21385 क्विंटल गेहूं तुलवाया था। इस वर्ष तुलवाए गए गेहूं का 90 लाख रुपए से अधिक बोनस के रूप में 9 जून को ही किसानों के खातो में डाल दिए गए। इसी प्रकार आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था कमलापुर के प्रबंधक बेनीराम राठौर ने बताया कि इस वर्ष 397 द्वारा समर्थन मूल्य पर 19421 क्विटंल गेहूं तुलवाया गया, जिसका 265 रुपए के हिसाब से प्रत्येक किसान के खाते में शासन द्वारा डाले गए हैं। सभी 397 किसानों को 51,46,565 रुपए बोनस के रूप में दिए गए। किसानों के खाते में हाथों हाथ बोनस के रुपए डालने पर क्षेत्र के समस्त किसानों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार माना।

किसानों को मिला राशि जमा होने का मैसेज

भास्कर संवाददाता | बागली

प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपने वादे के अनुसार किसानों के गेहूं का बोनस जारी कर दिया। शनिवार व रविवार को बैंक अवकाश के चलते कई किसानों को शुक्रवार रात्रि से ही राशि जमा होने के मैसेज आने लगें। सोमवार को कई किसान बैंक पहुंचे।

बागली तहसील के तीन समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों (बागली, चापड़ा और कमलापुर) पर अपनी उपज विक्रय करने वाले कुल 2283 किसानों को 2 करोड़ 88 लाख 27 हजार 495 रुपए का बोनस मिला है। बोनस मिलने पर किसानों ने हर्ष जताया। साथ ही अपनी उपज का उचित मूल्य मिलने पर सरकार को धन्यवाद भी ज्ञापित किया। जानकारी के अनुसार जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित के तहत बागली कृषि मंडी के खरीदी केंद्र पर कुल 1174 किसान पंजीकृत थे। जिसमें 1127 किसानों ने अपनी उपज 55 हजार 385 क्विंटल गेहूं का विक्रय किया। जिसमें उन्हें 1 करोड़ 46 लाख 77 हजार 157.50 रुपए का बोनस मिला।

सहकारी बैंकों के ग्राहकों को लगा झटका

सोमवार से सहकारी बैंकों के कर्मचारी और अधिकारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। जिस कारण बैंकों के ग्राहकों को झटका लगा है। किसान न तो अपना बैलेंस जान पा रहे और ना ही निकासी व आहरण हो रहा है।

हड़ताल से हो सकती है परेशानी


1158 किसानों के खातों में गेहूं के डेढ़ करोड़ रुपए बोनस के रूप में आए

X
बागली में 2283 किसानों को उपज के 2 करोड़ 88 लाख 27495 रुपए का बोनस मिला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..