• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • तोताराम ने रट्‌टा मारा और अहिल्या बनी झांसी की रानी, कालिदास बने संगीतज्ञ
--Advertisement--

तोताराम ने रट्‌टा मारा और अहिल्या बनी झांसी की रानी, कालिदास बने संगीतज्ञ

संतुलित अभिनय, स्पष्ट संवाद के आंकलन से परे मंच पर नन्हें बच्चों की आत्मविश्वास से भरी उपस्थिति ही दर्शकों को...

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 03:00 AM IST
तोताराम ने रट्‌टा मारा और अहिल्या बनी झांसी की रानी, कालिदास बने संगीतज्ञ
संतुलित अभिनय, स्पष्ट संवाद के आंकलन से परे मंच पर नन्हें बच्चों की आत्मविश्वास से भरी उपस्थिति ही दर्शकों को आल्हादित करने वाली थी। अपने-अपने किरदारों के साथ उनकी दोस्ती इतनी सहज थी, कि रंगकर्म का यह मंच बड़ा सरल लगा। बहरहाल संस्था मुक्त संवाद और तरुण मंच द्वारा आयोजित बाल नाट्य महोत्सव का शनिवार को दूसरा दिन था। अलग-अलग नाट्य संस्थाओं के बच्चों ने 17 नाटकों की प्रस्तुति दी। इसमें 12 हिंदी और 5 मराठी भाषी नाटक थे। यहां न सिर्फ बच्चों का अभिनय, बल्कि नाटकों में उठाए गए मुद्दों ने भी दर्शकों को जोड़ा। इनमें कभी सिस्टम पर सटायर थे, तो कुछ मौजूदा हालातों पर।

हिंदी नाटक तोताराम उन बच्चों की कहानी कहता है, जो समझने के बजाय रटकर याद करते हैं। और परीक्षा के समय भूल जाने पर सबकुछ गड़बड़ कर देते हैं। ऐसा ही एक बच्चा रमेश इस नाटक का मुख्य पात्र रहा जो इतिहास के सारे पाठ रटता है, लेकिन परीक्षा में सब भूल जाता है, और परीक्षा के पर्चे में एक नया ही इतिहास लिख देता है। जैसे- अकबर का जन्म पोरबंदर में हुआ था, कुतुबमीनार संसार के 8 आश्चर्यों में से एक है, जिसे अलाउद्दीन खिलजी ने बनवाया था, और यह इमारत गंगा किनारे स्थित है। 1857 में झांसी की रानी अहिल्याबाई और सिराजुद्दौला के बीच लड़ाई हुई थी। कालिदास अकबर के नवर|ों में से एक थे...। नाटक का निर्देशन अर्चना देशपांडे ने किया था।

बच्चों को रट-रटकर एग्ज़ाम में अच्छे नंबर लाने वाली व्यवस्था पर बाल कलाकारों का कटाक्ष

10 पैसे का तानसेन

चैतन्य महाराष्ट्र मंडल सूर्यदेव नगर के बच्चों ने 10 पैसे का तानसेन नाटक खेला। मेघा माकोड़े द्वारा निर्देशित यह नाटक 1 रुपए में भविष्य बतानेवाले पंडित और उसके तोते की कहानी है। जहां पंडित अपने स्वार्थ के लिए बच्चों को झूठा भविष्य बताता और उनसे रुपए लेता। लेकिन एक बच्चा जो पंडित की झूठी भविष्यवाणी में नहीं फंसता है और सभी को अपनी मेहनत पर भरोसा रखने, भविष्य के लिए पैसे बचाने का संदेश देता है।

X
तोताराम ने रट्‌टा मारा और अहिल्या बनी झांसी की रानी, कालिदास बने संगीतज्ञ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..