इंदौर

--Advertisement--

काम पूरा नहीं हुआ तो जुलाई में दिक्कत आएगी

इंदौर

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:00 AM IST
इंदौर
खजराना हायर सेकंडरी स्कूल के पास 16 कमरे हैं। इनमें 2 प्राइमरी, 2 मिडिल और एक हायर सेकंडरी स्कूल लगता है। स्कूल में पहली से बारहवीं तक 1200 विद्यार्थी पढ़ते हैं। इनमें से 352 छात्र-छात्रा नौवीं से बारहवीं के हैं। बिचौली हप्सी से निपानिया तक के 148 सरकारी और निजी स्कूल इस संकुल का हिस्सा हैं। शिक्षा विभाग के अफसरों के मुताबिक आधी बिल्डिंग तैयार हो जाती तो कुछ कक्षाएं उसमें लग सकती थीं। यदि जल्द निर्माण पूरा नहीं हुआ तो जुलाई में उस हिस्से का इस्तेमाल नहीं हो पाएगा। दूसरी ओर मौजूदा यूनिट भी पूरी नहीं हो पाएगी।

कागजों पर हाईटेक स्कूल

खजराना हायर सेकंडरी स्कूल को प्राइवेट स्कूल की तर्ज पर विकसित करने की योजना है। शहर का यह पहला ऐसा स्कूल होगा, जिसमें लिफ्ट की प्लानिंग की गई है। स्कूल में बास्केट बॉल कोर्ट और डिजिटल ऑडिटोरियम बनेगा। असेंबली हॉल और स्मार्ट क्लास भी बनाया जाएगा। फिलहाल सब कुछ कागजों पर ही है।

सीधी बात
निर्माण जल्द शुरू कराएंगे


निर्माण जल्द शुरू हो जाएगा।


फंड तो जल्दी जारी कर रहे हैं। ठेकेदार का कुछ इश्यू है।


मैं चेक करवा लेती हूं। यदि पेमेंट की समस्या है तो भुगतान हो जाएगा।

नगर निगम के पास बजट नहीं

 खजराना स्कूल की बिल्डिंग में फंड का इश्यू है। ठेकेदार का पेमेंट नहीं हुआ है। इसलिए उसने काम बंद कर दिया। नगर निगम के पास बजट नहीं है। हमने इस बारे में मेयर से भी चर्चा की थी। एक हफ्ते में पेमेंट करवाएंगे। यदि फिर भी दिक्कत आती है तो दूसरा रास्ता निकालेंगे। अजय सिंह नरूका, क्षेत्रीय पार्षद और सभापति

X
Click to listen..