• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Indore
  • News
  • जबलपुर ट्रेन के 2 एसी कोच में नहीं हो रही थी कूलिंग, डीआरएम को शिकायत
--Advertisement--

जबलपुर ट्रेन के 2 एसी कोच में नहीं हो रही थी कूलिंग, डीआरएम को शिकायत

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 03:25 AM IST

News - जबलपुर ओवरनाइट एक्सप्रेस शनिवार को जब इंदौर से रवाना होने वाली थी तो उसके दो एसी कोच के एसी काम नहीं कर रहे थे। इसके...

जबलपुर ट्रेन के 2 एसी कोच में नहीं हो रही थी कूलिंग, डीआरएम को शिकायत
जबलपुर ओवरनाइट एक्सप्रेस शनिवार को जब इंदौर से रवाना होने वाली थी तो उसके दो एसी कोच के एसी काम नहीं कर रहे थे। इसके कारण यात्रियों ने स्थानीय रेलवे अफसरों से शिकायत की। यात्री इस बात पर अड़ गए कि अफसर पहले ट्रेन के कोच में कूलिंग चालू करवाएं उसके बाद ट्रेन को रवाना करें। इस पर असमंजस में पड़े अफसरों ने डीआरएम को मामले की जानकारी दी। डीआरएम के निर्देश पर इलेक्ट्रिकल विभाग के अफसरों ने तत्काल समस्या का समाधान किया और एसी की कूलिंग ठीक की। यात्री संतुष्ट हुए या नहीं इसके लिए डीआरएम ने फोन पर बात कर उनका फीडबैक भी लिया। इस कारण ट्रेन 10 मिनट तक रुकी रही।

22191 इंदौर-जबलपुर आेवरनाइट एक्सप्रेस शनिवार शाम 6.40 बजे जब रवाना होने वाली थी तब ही इसके एसी कोच ए1 और एच1 में तकनीकी खराबी आ गई। इसके कारण यात्रियों ने कूलिंग नहीं होने की शिकायत स्टेशन पर मौजूद रेलवे अफसरों से की। इसके बाद यात्रियों ने अफसरों से यह भी कहा जब तक ट्रेन के कोच की कूलिंग ठीक न हो ट्रेन को रवाना न किया जाए। इस पर एआरओ वीरेंद्र मकवाना ने मामले की जानकारी तत्काल डीआरएम आरएन सुनकर को दी।

कूलिंग नहीं होने पर यात्री एसी कोच से निकलकर बाहर आ गए।

डीआरएम ने सुधार कार्य के बाद यात्रियों से फीडबैक भी लिया

ट्रेन की कूलिंग जब ठीक हो गई तो स्थानीय अफसरों ने इसकी जानकारी डीआरएम को दी। इस पर डीआरएम ने अफसरों से कहा कि वे ट्रेन के एसी कोच में जाएं और यात्रियों से उनकी बात करवाएं। इसके बार डीआरएम ने यात्रियों से फीडबैक लिया और तब ट्रेन रवाना हो सकी। रास्ते में फिर ट्रेन में कोई परेशानी न आए इसके लिए डीआरएम ने इलेक्ट्रिकल विभाग के तीन सेक्शन इंजीनियर को भी इसी ट्रेन में भोपाल तक यात्रा करने के निर्देश दिए। साथ ही भोपाल डीआरएम को भी मामले की जानकारी देकर आगे की यात्रा के लिए वहां के अफसरों को निर्देशित करने के लिए कहा।

इस कारण से नहीं हो रही थी कूलिंग

इस ट्रेन के एसी कोच में कूलिंग डायनेमो के जरिए होती है। यह तब पूरी तरह से काम करता है जबकि ट्रेन चल रही हो। इसको लेकर रेलवे के अफसरों ने यात्रियों को समझाने की कोशिश भी की थी कि ट्रेन के चलने पर कूलिंग शुरू हो जाएगी, लेकिन यात्री नहीं माने। इस पर इलेक्ट्रिकल विभाग ने एसी कोच की बैटरियाें को इंटरकनेक्ट कर दिया और ट्रेन के कोच में कूलिंग शुरू हो गई।

X
जबलपुर ट्रेन के 2 एसी कोच में नहीं हो रही थी कूलिंग, डीआरएम को शिकायत
Astrology

Recommended

Click to listen..