--Advertisement--

रिकॉर्ड खरीदी के बावजूद गेहूं के भावों में मंदी के संयोग नहीं

चालू सीजन में गेहूं की खरीदी 350.81 लाख टन को पार कर गई है। गत वर्ष से 42 लाख टन की अतिरिक्त खरीदी कर ली है। केंद्रीय पुल...

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 03:30 AM IST
चालू सीजन में गेहूं की खरीदी 350.81 लाख टन को पार कर गई है। गत वर्ष से 42 लाख टन की अतिरिक्त खरीदी कर ली है। केंद्रीय पुल में 262 लाख टन का स्टॉक में पहले से ही पड़ा है। ऐसी स्थिति में गेहूं के भावों का नियंत्रण खाद्य निगम के हाथों में चला गया है। नई फसल आने के पूर्व भावों में मंदी के संयोग नहीं लगते हैं।

चालू सीजन में पंजाब ने 136.90 लाख टन, उप्र में 40 लाख टन, हरियाणा 87.39 लाख टन मप्र से 72.86 लाख टन से अधिक खरीदी हुई है। इस वर्ष मप्र के किसानों के सामने 265 रुपए अतिरिक्त बोनस का लाभ मिल रहा था किंतु अन्य राज्यों ने इतनी बड़ी मात्रा में गेहूं क्यों तौल दिया यह विचारणीय विषय है। मप्र, गुजरात एवं महाराष्ट्र में गेहूं का स्टॉक समाप्ति की ओर है। देशभर की मैदा मिलें उप्र एवं बिहार से खरीदी कर रही हैं। ये दोनों राज्य कितने समय तक आपूर्ति करते रहेंगे? खाद्य निगम ने बिक्री भाव ऊंचे हैं। अत: आने वाले महीनों में गेहूं के भावों में मंदी के संयोग लगभग समाप्त हो गए हैं। आयात शुल्क 10 से बढ़कर 30 प्रतिशत किए जाने से फिलहाल आयात संभव नहीं है। इस वर्ष गेहूं उत्पादों के भावों में तेजी रहेगी। शायद इस बात से खाद्य मंत्रालय अनभिज्ञ है।

कंटेनरों में डॉलर मंदा

डबल डॉलर की आवक इंदौर मंडी में 3000 से 3500 बोरी की रही। शेष अधिकांश मंडियों में अवकाश रहा। कंटेनरों में भाव घटाकर मांग आती है। नीलामी में डॉलर 4000 से 4500 रुपए 4600 से 5000 रुपए। कुछ ट्रॉलियां 5100 रुपए 5170 रुपए 5175 रुपए बिकी। कंटेनरों में डॉलर 42X44- 5600 रु. 44X46- 5400 रु.। 58X60- 4400 रु. 60X62- 4300 रु. 62X64- 4200 रु.।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..