इंदौर

--Advertisement--

बीएड-एमएड में रजिस्ट्रेशन 15 से 23 जून तक, 5 जुलाई को पहली सूची

बीएड-एमएड और बीपीएड-एमपीएड कोर्स में एडमिशन का पूरा शेड्यूल सोमवार को जारी कर दिया गया। पहले दौर में महज 9 दिन...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 03:30 AM IST
बीएड-एमएड और बीपीएड-एमपीएड कोर्स में एडमिशन का पूरा शेड्यूल सोमवार को जारी कर दिया गया। पहले दौर में महज 9 दिन रजिस्ट्रेशन के लिए मिलेंगे। 15 से 23 जून तक यह ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन एमपी ऑनलाइन के जरिए होंगे। दस्तावेज सत्यापन के लिए छात्रों को 15 से 25 जून तक का समय पहले दौर के लिए मिलेगा। इसके बाद 5 जुलाई को पहली सूची जारी होगी। 5 से 10 जुलाई तक छात्र अलॉट हुए कॉलेज में फीस और दस्तावेज जमा कर सकेंगे।

12 से 17 जुलाई तक दोबारा रजिस्ट्रेशन की लिंक खुलेगी। इसमें वे छात्र रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे, जो पहले किसी वजह से नहीं करवा पाए थे। यही नहीं पहली सूची में जिनका नाम नहीं आया या फिर पसंद का कॉलेज अलॉट नहीं हुआ, ऐसे छात्र दोबारा च्वॉइस फिलिंग कर सकेंगे। 12 से 18 जुलाई तक दस्तावेज सत्यापन होगा। 27 जुलाई को दूसरे चरण की सूची जारी होगी। 1 अगस्त तक फीस व दस्तावेज जमा होंगे।

तीसरा चरण भी होगा इस बार

बीएड में प्रवेश के लिए इस बार तीसरा चरण भी होगा। इसके लिए रजिस्ट्रेशन 3 से 8 अगस्त तक होंगे, जबकि दस्तावेज सत्यापन 3 से 9 अगस्त तक होगा। बीएड कोर्स की प्रक्रिया में प्रवेश परीक्षा की अनिवार्यता खत्म करने की मांग उठाने वाले कॉलेज संचालक अभय पांडे का कहना है अब छात्रों को बिना परेशानी के एडमिशन मिलेंगे। मेरिट आधार पर उन्हें पसंद का कॉलेज अलॉट होगा। कॉलेज एसोसिएशन के कमल हिरानी के अनुसार इंदौर की 6400 सीटों के लिए कम से कम 15 हजार आवेदन आने की संभावना है, लेकिन पिछली बार फिर भी सीटें खाली रह गई थी। इस बार तीन काउंसलिंग होने का फायदा मिलेगा।

25 फीसदी सीटें प्रदेश सेे बाहर के छात्रों के लिए

छात्र को ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन में कुल 50% न्यूनतम अंक अनिवार्य है। हालांकि एससी-एसटी छात्रों को इसके 5% तक छूट रहेगी। 75% सीटें प्रदेश के छात्रों के लिए रहेगी। जबकि 25% सीटों पर अन्य राज्य के छात्र प्रवेश ले सकेंगे।

X
Click to listen..