Home | Madhya Pradesh | Indore | News | 93 साल के अटलजी एम्स में भर्ती, यूरिनरी इन्फेक्शन; हालत स्थिर

93 साल के अटलजी एम्स में भर्ती, यूरिनरी इन्फेक्शन; हालत स्थिर

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को सोमवार सुबह एम्स में भर्ती करवाया गया। यूरिनरी ट्रैक्ट में इंफेक्शन के...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 12, 2018, 03:35 AM IST

93 साल के अटलजी एम्स में भर्ती, यूरिनरी इन्फेक्शन; हालत स्थिर
93 साल के अटलजी एम्स में भर्ती, यूरिनरी इन्फेक्शन; हालत स्थिर
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को सोमवार सुबह एम्स में भर्ती करवाया गया। यूरिनरी ट्रैक्ट में इंफेक्शन के चलते उनका यूरिन सामान्य से कम पास हो रहा है। हालांकि, इससे पहले भाजपा और एम्स ने बताया कि 93 साल के वाजपेयी को रूटीन जांच के लिए अस्पताल लाया गया है। एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम ने उनकी जांच की। उनकी हालत स्थिर बताई गई है। उन्हें रातभर एम्स में रखा जाएगा। डॉक्टरों के अनुसार वाजपेयी की सिर्फ एक किडनी है। ऐसे में उनका डायलिसिस नहीं किया जा सकता। हालांकि, शाम को एकाएक वाजपेयी को देखने एम्स में नेताओं का तांता लगने से उनकी हालत को लेकर अटकलें शुरू हो गईं। सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पहुंचे। फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा सहित कई केंद्रीय मंत्री एम्स पहुंचे। शेष | पेज 8 पर







करीब 55 मिनट रुके मोदी ने वाजपेयी के परिवार और डॉक्टरों से उनकी हालत के बारे में जाना। लंबे समय तक वाजपेयी के सहयोगी रहे वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी भी एम्स पहुंचे। एम्स सूत्रों के अनुसार वाजपेयी के दामाद रंजन भट्टाचार्य और निजी सचिव एमसी जिग्सा सुबह से उनके साथ रहे। इन दोनों के अलावा किसी और को वाजपेयी के पास जाने की इजाजत नहीं है। वाजपेयी लंबे समय से अस्वस्थ हैं और सक्रिय राजनीति से दूर हैं। वह 1996 में 13 दिन के लिए प्रधानमंत्री बने थे। उसके बाद 1998 से 2004 तक वह दो बार प्रधानमंत्री रहे।



आखिरी बार 10 महीने पहले एम्स लाए गए थे:

पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को आखिरी बार अगस्त 2017 में एम्स लाया गया था। उस वक्त उन्हें चक्कर आने की समस्या थी। हालांकि, जल्द ही उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था। वाजपेयी के इलाज के लिए घर पर भी पूरी व्यवस्था थी। एम्स के मौजूदा निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में साल 2009 से डॉक्टरों की टीम नियमित रूप से घर जाकर वाजपेयी की जांच करती रही है। डॉ. गुलेरिया 30 साल से वाजपेयी के पर्सनल फिजिशियन हैं।

कार्डियो एंड न्यूरो टावर में भर्ती हैं

एम्स सूत्रों के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी अस्पताल के कार्डियो एंड न्यूरो टावर में भर्ती हैं। एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया के साथ एक गेस्ट्रोएंट्रोलॉजिस्ट और एक नेफ्रोलॉजी स्पेशलिस्ट सहित अन्य डॉक्टरों ने उनकी जांच की। अस्पताल सूत्रों के अनुसार उन्हें आईसीयू में रखा गया है।

भतीजी ने कहा- चिंता की कोई बात नहीं

इंदौर |
पूर्व प्रधानमंत्री की भतीजी माला वाजपेयी तिवारी ने अटल बिहारी वाजपेयी की हालत को स्थिर बताते हुए कहा कि चिंता की कोई बात नहीं है। भास्कर से बात करते हुए उन्हाेंने बताया कि मैंने शाम को अटलजी की निकटस्थ लोगों से बात की थी। उनकी हालत स्थिर है और चिंता करने जैसी बात नहीं है।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now