--Advertisement--

पुलिस की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में महिला एसआई भी लापरवाह

छेड़छाड़ से त्रस्त होकर 10वीं की छात्रा गायत्री जाट द्वारा आत्महत्या करने के मामले में सीएसपी द्वारा की गई...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 03:40 AM IST
छेड़छाड़ से त्रस्त होकर 10वीं की छात्रा गायत्री जाट द्वारा आत्महत्या करने के मामले में सीएसपी द्वारा की गई प्रारंभिक जांच की रिपोर्ट डीआईजी को गुरुवार को मिल गई। इसमें द्वारकापुरी थाने की सब इंस्पेक्टर संध्या उरमलिया की भी लापरवाही सामने आई है। दो पुलिसकर्मियों को पहले ही सस्पेंड किया जा चुका है। अब तीनों की विभागीय जांच शुरू की जाएगी। डीआईजी का कहना है कि उरमलिया को पुलिस लाइन भेजा जा सकता है। प्रजापत नगर निवासी गायत्री को वहीं रहने वाला मिलन चौहान कई दिन से परेशान कर रहा था। छात्रा व उसके परिजन तीन दिन तक थाने गए, लेकिन पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की। आखिर में छात्रा ने फांसी लगा ली थी। छात्रा का सुसाइड नोट भी मिला था। इस मामले में डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने एसआई ओंकार कुशवाह और हेड कांस्टेबल वृंदावन पटेल को सस्पेंड कर दिया था। परिजन का कहना था कि एक अन्य महिला पुलिसकर्मी ने भी उनकी मदद नहीं की थी। उसने शिकायत लिखने के लिए न कागज दिया न पेन। डीआईजी ने बताया कि प्रारंभिक जांच में एसआई संध्या उरमलिया की भी लापरवाही सामने आई है। उसे भी प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में भी शामिल किया गया है।

गायत्री की खुदकुशी का मामला

भास्कर में 10 जुलाई को प्रकाशित खबर।