• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • किसान जब तक अफसरों-नेताओं की गुलामी नहीं छोड़ेगा, अन्नदाता नहीं बन सकेगा: हार्दिक
--Advertisement--

किसान जब तक अफसरों-नेताओं की गुलामी नहीं छोड़ेगा, अन्नदाता नहीं बन सकेगा: हार्दिक

किसान जीवनभर किसी न किसी की गुलामी करता रहता है। कभी अफसर की, कभी नेताओं की और कभी मंत्री या सरकार की। उसे लोगों के...

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 03:55 AM IST
किसान जीवनभर किसी न किसी की गुलामी करता रहता है। कभी अफसर की, कभी नेताओं की और कभी मंत्री या सरकार की। उसे लोगों के आगे झुकने की आदत छोड़ना होगी, तभी वह किसान से अन्नदाता बन सकेगा, तभी किसान को उसका असली हक और सम्मान मिल सकेगा। यह बात गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने मंगलवार को संतोष सभागृह में पंचायती राज पर आयोजित सेमिनार में कही।

जिले के कई गांवों से आए किसानों को संबोधित करते हुए हार्दिक ने कहा किसानों को पुलिस या सरकार के डर से बाहर आना होगा। एकजुट होकर हक की लड़ाई लड़ना होगी। हार्दिक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोलते हुए कहा नोटबंदी का फैसला देश का सबसे बड़ा घोटाला है। गुजरात की एक सहकारी बैंक में ही 10 हजार करोड़ रुपए नोटबंदी के बाद जमा किए गए। हार्दिक चार दिन में पांचवीं बार इंदौर अाए। पूर्व मंत्री रामेश्वर पटेल द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बड़ी संख्या में किसान पहुंचे थे। इसमें कांग्रेस के पूर्व विधायक तुलसी सिलावट, सत्यनारायण पटेल, राधेश्याम पटेल और कृपाराम सोलंकी भी मौजूद थे। उन्होंने भी अपनी बात रखी। इस दौरान हार्दिक ने किसानों के सवालों के जवाब भी दिए।

पटेल ने कहा मैं किसी से नहीं डरता। यही वजह है कि पिछले 60 दिन से मध्यप्रदेश के गांव-गांव जाकर सत्ता के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहा हूं। अभी यह सिलसिला आगे और चलेगा। पटेल ने कहा कांग्रेस तब तक चुनाव नहीं जीत सकती, जब तक वह बूथ मैनेजमेंट नहीं करती। उसका कार्यकर्ता हर बूथ पर मतदान के दिन सुबह से पहुंचे तभी वह जीत पाएगी। कांग्रेस को सहकारिता के क्षेत्र में भी मजबूत होना होगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..