Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» जर्मनी जीतेगा, नहीं... ब्राजील या अर्जेंटीना जीतेगा!

जर्मनी जीतेगा, नहीं... ब्राजील या अर्जेंटीना जीतेगा!

ऑल इंडिया इंडियन पब्लिक स्कूल फुटबॉल चैंपियनशिप के लिए तैयारी करते एमरल्ड हाइट्स स्कूल के बच्चे। खेल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 13, 2018, 04:00 AM IST

  • जर्मनी जीतेगा, नहीं... ब्राजील या अर्जेंटीना जीतेगा!
    +1और स्लाइड देखें
    ऑल इंडिया इंडियन पब्लिक स्कूल फुटबॉल चैंपियनशिप के लिए तैयारी करते एमरल्ड हाइट्स स्कूल के बच्चे।

    खेल संवाददाता | इंदौर

    दुनिया के सबसे चर्चित खेल फुटबॉल का वर्ल्डकप गुरुवार से रशिया की मेजबानी में शुरू होने जा रहा है। इस बार खिताब की दावेदारों में चार बार की चैंपियन और गत विजेता जर्मनी सबसे प्रबल दावोदर है जबकि पांच बार के चैंपियन ब्राजील और दो बार के चैंपियन अर्जेंटीना पर भी फुटबॉल शौकीनों की नजरें लगी हुई हैं। चर्चित खिलाड़ियों में ब्राजील के नेमार, अर्जेंटीना के लियोनेल मैसी और पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोेनाल्डो शामिल हैं तो जर्मनी के साथ थॉमस मूलर, मैन्युएल नेयुर और अर्जेंटीना के गोंजालो हिगुएन और एंजल डि मारिया भी कमतर नहीं हैं।

    वर्ल्डकप को लेकर इंदौर के जूनियर्स फुटबॉलरों में भी गजब का जुनून छाया हुआ है। कोई कहता है इस बार भी जर्मनी ही जीतेगा तो कोई कह रहा है ब्राजील या अर्जेंटीना जीतेंगे। जब भास्कर टीम मंगलवार सुबह एमरल्ड हाइट्स स्कूल पहुंची तो वहां पर अंडर-17 आयु वर्ग के ये बच्चे इंडियन पब्लिक स्कूल सोसायटी की ऑल इंडिया फुटबॉल कॉम्पीटिशन की तैयारी में जुटे हुए थे।

    यह स्पर्धा हिमाचलप्रदेश के सनावर में होने वाली है। एमरल्ड की इस टीम में चार बच्चे गौतम विरवानी, गौतम गवलानी, समर्थ कटारिया और अनिरुद्ध पटेल जूनियर आई लीग में खेल चुके हैं। एक और उभरते फुटबॉलर दिलीप सिसौदिया भी ओपन नेशनल, जूनियर नेशनल और स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसजीएफअाई) का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। कैंप में 45 के करीब जूनियर्स अपने कोच खालिद खान, मोहनसिंह बिष्ट और शादाब खान की देखरेख में प्रैक्टिस कर रहे थे।

    वर्ल्डकप को लेकर क्या कहते हैं जूनियर फुटबॉलर

    वर्ल्डकप के नए चैंपियन को लेकर गौतम विरवानी का कहना है कि इस बार भी जर्मनी ही जीतेगा। क्यों जीतेगा इस सवाल पर वे बोले कि जर्मनी बेहद संतुलित टीम है अौर उसका अटैक और डिफेंस बहुत तगड़ा है। गोलकीपर मेन्युएल नेयुर जर्मनी की सबसे बड़ी ताकत है। इसके बाद मारियो गोेमेज, थॉमस मूलर, टिमो वेरनर, जुलियन ड्रैक्सलर, सामी खेदिरा मेसुत ओजिल भी मैच जिताने वाले खिलाड़ी हैं। दूसरी ओर गौतम गवलानी की दिलचस्पी अर्जेंटीना टीम के साथ थी। गौतम का कहना था कि अर्जेंटीना के पास मैसी जैसा महान खिलाड़ी है और इसके अलावा पाउलो डेबाला, सर्गियो एगुएरो, गोंजालो हिगुएन, मार्कोस रोजोनिकोलस ओटामेंडी भी किसी के कम नहीं हैं। अनिरुद्ध पटेल का कहना था कि इस बार ब्राजील जीतेगा। क्यों के सवाल पर वे बोले कि ब्राजील की टीम पूरी तरह से एक परफेक्ट टीम है। नेमार उसकी सबसे बड़ी ताकत हैं। नेमार के पूरी तरह से फिट नहीं की बात पर उनका कहना था कि नेमार अपने पहले मैच से पहले पूरी तरह से फिटफाट हो जाएंगे। ब्राजील टीम में नेमार के साथ ही गोलकीपर एलीसुन, डिफेंडर डेनिलो फिलिप लुईस, कासेमिरो, फेर्नांडिन्हो, पुलिन्हो, गैब्रियल जीसस. रॉबरेटो फिरमिनो जैसे धाकड़ खिलाड़ी हैं। इसके अलावा स्कूल में ताइक्वांडो और शूटिंग कैंप से जुड़े बच्चों में भी फुटबॉल के प्रति रुचि दिखी। इन बच्चोें ने भी जर्मनी को ही खिताब का दावेदार बताया।

    ताइक्वांडो और शूटिंग के बच्चों ने भी राय दी।

  • जर्मनी जीतेगा, नहीं... ब्राजील या अर्जेंटीना जीतेगा!
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×