इंदौर

--Advertisement--

जीवन का हर क्षण कीमती, सदुपयोग करें

पुरुषोत्तम मास में एक महीने से चल रहे अनुष्ठानों की पूर्णाहुति बुधवार को जयघोष के साथ हुई। वहीं, रामकथा भागवत का...

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 04:05 AM IST
जीवन का हर क्षण कीमती, सदुपयोग करें
पुरुषोत्तम मास में एक महीने से चल रहे अनुष्ठानों की पूर्णाहुति बुधवार को जयघोष के साथ हुई। वहीं, रामकथा भागवत का समापन भी महाआरती के साथ हुआ। अन्नपूर्णा, पंचकुइया श्रीराम मंदिर, जानकीनाथ मंदिर सहित 50 से ज्यादा स्थानों पर चल रहे अधिकमास के अनुष्ठान की पूर्णाहुति हुई।

श्री श्रीविद्याधाम में भागवत पारायण और रामकथा की पूर्णाहुति हुई। कथा में आचार्य हरिकृष्ण शास्त्री ने कहा- मान और सम्मान उन्हीं का होता है, जो त्याग करते हैं। उन्होंने कहा- जिसके जीवन में प्रकाश है, वह दिव्यवान होता है, क्योंकि प्रकाश में चैतन्यता और सत्यता है। भगवान राम जैसा आदर्श चरित्र दुनिया में कहीं नहीं मिल सकता। उन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम इसलिए कहा जाता है कि उनसे श्रेष्ठ मर्यादित आचरण नहीं हो सकता।

उषा नगर में आयोजित कथा में प्रवचन सुनते श्रद्धालु।

जीवन को सफल बनाना है तो अपने कर्मों को शुद्ध रखते हुए ईश्वर की भक्ति करंे, जिससे कि सद्‌मार्ग दिखाने वाले सद्‌गुरु की प्राप्ति हो। जीवन का एक-एक क्षण कीमती है, उसका सदुपयोग करें। यह बात संत रामप्रसाद महाराज ने बुधवार को उषा नगर स्थित पं. लक्ष्यराम सत्संग भवन पर कही।

श्रीराम महायज्ञ आज से, कलशयात्रा निकलेगी

श्री अरण्य धाम संत आश्रम स्कीम-78 पर नौ कुंडीय श्रीराम महायज्ञ गुरुवार से शुरू होगा। महंत रामदास महाराज ने बताया महायज्ञ की शुरुआत दोपहर में कलश यात्रा से होगी। उधर, स्वस्तिक नगर, एमओजी लाइन्स में श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ समिति द्वारा आयोजित भागवत कथा में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। इस मौके पर भागवताचार्य डॉ. सुरेंद्र दुबे ने कथा में भगवान कृष्ण के जन्म का प्रसंग सुनाया।

X
जीवन का हर क्षण कीमती, सदुपयोग करें
Click to listen..