Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...

फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...

इंदौर | मां जब बचपन में तैयार करती थी तो कान के पीछे काजल के टीके लगा देती। नज़र न लग जाए तुझे... इसी मुराद के साथ...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:45 AM IST

  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
    इंदौर | मां जब बचपन में तैयार करती थी तो कान के पीछे काजल के टीके लगा देती। नज़र न लग जाए तुझे... इसी मुराद के साथ बलाइयां लेती। गीले-उलझे बालों का जूड़ा जैसे-तैसे बनाकर वो संवारती-निहारती हमें। सजी-संवरी तो वो बस पुराने एलबम्स में ही नज़र आती थी। निदा फाज़ली ने अपनी ग़ज़ल में लिखा है "फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां'...उसी शोख लड़की को हाथ थामे एक बार फिर सामने ले आईं बेटियां। गुरुवार को हुए इस कार्यक्रम #लव फॉर योर मॉम में फैशन ब्लॉगर्स ने अपनी मां को सजाया। उन्हें अपनी पसंद से शॉपिंग कराई। फीके रंग जो वे अक्सर चुन लेती हैं, उनके बजाय खिले-खिले रंगों के कपड़े चुने। वे कहती रहीं, "बस बेटा ओवर हो जाएगा' लेकिन इस बार बेटियां फैसला रही थीं और मां छोटी बच्ची की तरह उनकी हर बात मान रही थीं

    मैंने मां को इंडो-वेस्टर्न लुक दिया। वे खुद अच्छी ब्यूटीशियन हैं। इसलिए स्टाइल सेंस तो पहले तो उनका बहुत अच्छा है। वे कुछ भी पहनें स्टाइलिश लगती हैं।

    मां अनामिका सितलानी के साथ रिदम

    मां के पास इतनी साड़ियां हैं कि मैं भी उनमें से निकालकर अपने लिए कुछ बनवाती रहती हूं। मां का स्टाइल सिम्पल है, जिसका ध्यान मैंने भी रखा, लेकिन आज उन्हें कॉटन का स्कर्ट और प्रिंटेड कुर्ता पहनाया। मुझे और मां दोनों को गजरा पसंद है। वह भी कैरी किया। मां का लुक ज्यादा नहीं बदला, वो मुझे ऐसे ही अच्छी लगती हैं।

    - मां अंजू पटेल के साथ श्वेता

    मां हर ड्रेस जिस ग्रेस से कैरी करती हैं उस पर मैं फिदा हूं। यहां मैंने उन्हें 10 मिनिट में रेडी किया। बोहेमियन स्टाइल का टॉप और प्लाज़ो चुना उनके लिए। फ्लेरी फुटवियर थे, यलो हैंडबैग है पसंद किया जो उनके हेयर कलर टोन को मैच करता है।

    सास हर्षा खेमचंदानी के साथ काव्या

    मेरे दोस्त अकसर कहते हैं, तुम अब भी मां के साथ शॉपिंग क्यों जाती हो, उनका टेस्ट पुराना होगा। मां का फैशन सेंस मुझसे अच्छा है। वे मेकअप नहीं करती, लेकिन उन्हें सजा-संवरा देखने की मेरी चाहत मैंने आज पूरी की। खुद सजाया उन्हें।

    मां सपना भम्बानी के साथ ज्योत्सना

    स्टोर के सबसे बोरिंग कपड़े चुनना हो तो मां को कहो। मैंने उन्हें लॉन्ग रेड कुर्ता, यलो कलर स्कार्फ दिया। फ्लैट फुटवियर और दुपट्‌टे से मैच करता हैंडबैग लिया। स्वाति हरियाणी व संगीता

  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
  • फटे-पुराने इक एल्बम में चंचल लड़की जैसी मां...
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×