इंदौर

--Advertisement--

200 हैंडपंप बंद थे, 183 का ब्लॉकेज खोला,अब मिलने लगा फिर से पानी

गांवो में पानी के लिए हो रही जद्दोजहद, महिलाएं हैंडपंप से पानी भरते हुए। 31 मई तक 6 विकासखंड में भू जलस्तर की स्थिति...

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 03:45 AM IST
200 हैंडपंप बंद थे, 183 का ब्लॉकेज खोला,अब मिलने लगा फिर से पानी
गांवो में पानी के लिए हो रही जद्दोजहद, महिलाएं हैंडपंप से पानी भरते हुए।

31 मई तक 6 विकासखंड में भू जलस्तर की स्थिति

विकासखंड भू जलस्तर

जोबट 92

उदयगढ़ 80

सोंडवा 81

आलीराजपुर 80

चंद्रशेखर आजाद नगर 66

कट्ठीवाड़ा 64

जिला का औसत 75

फैक्ट जिले में

हैंडपंप- 13685

बंद हैंडपंप- 516

नल जल योजना- 74

बंद नल जल योजना- 03

तालाब- 157

बैराज- 15

स्टॉपडेम सह पुलिया-12

पूर्ण कपिलधारा कूप- 18269

जिले में वर्ष 2017 में हुई बारिश 793.4



मिमी

जिले में पेयजल की स्थिति स्थिति बेहतर


इस संबंध में पीएचई ईई संतोष कुमार साल्वे ने बताया कि जिले में 13685 हैंडपंप है इसमें से 516 बंद है। 489 हैंडपंप भू जलस्तर गिरने से बंद है। जबकि 27 अन्य कारणों से बंद है।

जोबट में सर्वाधिक तो कट्ठीवाड़ा में कम गिरा भूजलस्तर

पीएचई ईई साल्वे ने बताया कि विभाग द्वारा सभी छह विकास खंडों में 10-10 हैंडपंप की अलग अलग एरिया में मॉनीटरिंगहै। इनमें हर 15 दिन में भू जल स्तर चेक किया जाता है। इनमें जैसे यदि 5 हैंडपंप में 60 से 80 और पांच में 100 से 200 फीट तक भू जल स्तर मिलता है तो सभी को मिलाकर औसत निकालकर भू जल स्तर का आंकलन किया जाता है। इस प्रकार 31 मई की स्थिति में सबसे ज्यादा भू जल स्तर 92 फीट नीचे जोबट का और सबसे कम 64 फीट कट्ठीवाड़ा का निकला, जबकि जिले का औसत 75 फीट निकला। अब 15 जून को भू जलस्तर की रिपाेर्ट आएगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान में जिले का भू जलस्तर 80 से 100 फीट माना जा सकता है।

जिले की औसत बारिश 879.7

मिमी

मार्च का भूजलस्तर 60 फीट

जून में संभावित भूजल स्तर- 80 से 100 फीट

मई का भू जल स्तर 74 फीट

X
200 हैंडपंप बंद थे, 183 का ब्लॉकेज खोला,अब मिलने लगा फिर से पानी
Click to listen..