• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • भोलेनाथ का दुग्धाभिषेक किया और सरकार को सदबुद्धि देने ज्ञापन सौंपा
--Advertisement--

भोलेनाथ का दुग्धाभिषेक किया और सरकार को सदबुद्धि देने ज्ञापन सौंपा

किसान आंदोलन के आखिरी दिन रविवार को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने स्थानीय राम मोहल्ला मंदिर में...

Danik Bhaskar | Jun 11, 2018, 04:35 AM IST
किसान आंदोलन के आखिरी दिन रविवार को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने स्थानीय राम मोहल्ला मंदिर में भोलेनाथ का दुग्धाभिषेक कर उनके चरणों में राज्य और केंद्र सरकार को सद्बुद्धि देने के लिए ज्ञापन दिया। इसमें सांसद कांतिलाल भूरिया भी शामिल हुए। रविवार सुबह से ही किसान राम मोहल्ला स्थित बड़ा राम मंदिर पहुंचने लगे थे। यहां भगवान शंकर के दुग्धाभिषेक के साथ आंदोलन की पूर्णाहुति करना थी। किसानों की हलचल देख पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी मंदिर में जुट गए। बड़ी संख्या में महिला तथा पुरुष किसानों ने मंदिर परिसर में पीपल के वृक्ष के नीचे स्थित शिवलिंग का दुग्धाभिषेक किया। इसके बाद उनके चरणों में एक ज्ञापन रखा। सांसद भूरिया ने कहा कांग्रेस किसानों के संघर्ष में पूरी तरह साथ है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर हम किसानों की सारी समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर हल करेंगे।

जिला स्तरीय किसान सम्मेलन में कृषक समृद्धि योजना में राशि का हुआ वितरण

झाबुआ | प्रदेश सरकार की किसान हितैषी योजनाओं का लाभ किसानों को दिए जाने के लिए जिला प्रशासन एवं कृषि विभाग के माध्यम से स्थानीय उत्कृष्ट उमावि मैदान पर जिला स्तरीय किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजनांतर्गत 6119 किसानों को को 9 करोड़ 61 लाख 88 हजार की प्रोत्साहन राशि का वितरण किया गया।

मुख्य अतिथि झाबुआ विधायक शांतिलाल बिलवाल, पेटलावद विधायक निर्मला भूरिया व थांदला विधायक कलसिंह भाबर थे। विधायक बिलवाल ने कहा प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की घोषणा के अनुसार आज प्रत्येक किसान के खाते में 265 रुपए प्रति क्विंटल के मान से मंडी में बेची गई फसल की प्रोत्साहन राशि जमा हो रही है। 6 हजार से अधिक किसानों को इसका लाभ मिला है। भाजपा सरकार ने किसान हितैषी योजनाओं को लागू करके हर किसान को समृद्ध बनाया है। सम्मेलन में जिले के 19 किसानों को कृषक समृद्धि योजनांतर्गत प्रमाणपत्रों का वितरण किया गया। वहीं सभी ने खड़े होकर संकल्प लिया कि खेती को लाभ का प्रकल्प बनाने में पूरी तरह सहभागी रहेंगे। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष मनोहर सेठिया, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष गौरसिंह वसुनिया, कलेक्टर आशीष सक्सेना, स्वच्छता अभियान के प्रदेश संयोजक कल्याणसिंह डामोर, प्रवीण सुराणा, फकीरचंद राठौर, किसान नेता छगनलाल जायसवाल, आरती भानपुरिया, जनपद अध्यक्ष मेघनगर सुशीला भाबर, मंडी अध्यक्ष भंवरसिंह बिलवाल आदि मौजूद थे।

भोलेनाथ के चरणों में ज्ञापन सौंपते सांसद व किसान।

सरकार को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की

भाजपा किसानों की समस्याओं की पूरी तरह अनदेखी कर रही है। भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष महेंद्र हामड़ ने कहा आज हमने भगवान को ज्ञापन सौंप कर सरकार को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की है। किसानों के आंदोलन में युवा नेता डॉ. विक्रांत भूरिया, पूर्व विधायक वालसिंह मेड़ा, पूर्व जनपद अध्यक्ष हीरालाल डाबी भी शामिल हुए। इस मौके पर मंदिर परिसर में एसडीएम हर्षल पंचोली, जिला महामंत्री जितेंद्र पाटीदार, कांग्रेस के नगर अध्यक्ष जीवन ठाकुर, मन्नालाल हामड़, हीरालाल डाबी, चंदू राठौड़ , गोपाल परमार, कमल ठाकुर, संजय राठौड़, प्रभात श्रीवास्तव, गंगाराम भूरिया, कमलेश बम, पार्षद शंभुडी हरचंद्र डामर आदि मौजूद थे।

6119 किसानों के खातों में डाले प्रोत्साहन राशि के 9 करोड़ 61 लाख 88 हजार रुपए

किसान सम्मेलन में खेती को लाभ का धंधा बनाने का संकल्प लिया।

खेती आधारित उद्योग के लिए मिलेगा 2 करोड़ का लोन

कलेक्टर आशीष सक्सेना ने बताया मुख्यमंत्री ने किसानों के हित में थांदला, पेटलावद एवं झाबुआ में नर्मदा का पानी लाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा किसान यदि खेती आधारित उद्योग लगाते है तो उन्हें सरकार से 2 करोड़ तक का लोन मिल सकता है। प्याज पर 4 रुपए प्रति किलो तथा लहसुन पर 8 रुपये प्रति किलो के मान से किसानों को अंतर राशि का भुगतान पंजीकृत किसानों को सरकार द्वारा किया जाएगा। कलेक्टर ने जिले में बड़े गोदाम बनाने की योजना की जानकारी देते हुए सहकारिता के माध्यम से लाभ उठाने का आव्हान किया। स्वागत भाषण उप संचालक जीएस त्रिवेदी ने दिया।

प्रदेश को पांच बार मिला है कृषि कर्मण पुरस्कार

विधायक निर्मला भूरिया ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की किसान हितैषी योजनाओं का सुचारु संचालन हो रहा है। इसका लाभ निचले स्तर तक के किसान उसका उठा रहे हैं। किसानों की मेहनत एवं मुख्यमंत्री के प्रोत्साहन के कारण प्रदेश को 5 बार कृषि कर्मण का पुरस्कार मिला है। उन्होंने भाजपा सरकार द्वारा सड़क, पानी, बिजली के क्षेत्र में दी गई सुविधाओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे किसानों को अपनी फसलें मंडी तक ले जाने में सुविधा मिली है।

आखिरी दिन बरवेट में तैनात रहा पुलिस बल

बरवेट | दस दिवसीय किसान आंदोलन का क्षेत्र में ज्यादा असर तो नहीं रहा लेकिन पुलिस प्रशासन फिर भी सक्रिय रहा। आखिरी दिन भी गांव में पुलिस जवान तैनात रहे। 6 जून को बरवेट के समीप गोठानियाखुर्द तालाब पर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले कुछ किसानों ने जल सत्याग्रह किया था। हालांकि यह भी शांतिपूर्ण तरीके से निपट गया। अांदोलन के अंतिम दिन रायपुरिया थाना प्रभारी कौशल्या चौहान, एसआई रामजी मिश्रा, एसआई प्रहलाद सिंह चुंडावत सहित अपने 25 जवानों के साथ रविवार सुबह आठ बजे बरवेट पहुंच गए। दिनभर चाक चोबंद व्यवस्था रही। कोई अप्रिय स्थिति नहीं बनी।

पहली बार एसी बस में सवार होकर लैपटाॅप लेने निकले 219 विद्यार्थी

झाबुआ | मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना 2018 के अंतर्गत सोमवार को जिले के विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री लैपटाॅप वितरित करेंगे। इसके लिए रविवार सुबह साढ़े 10 बजे चार एसी बसों से 219 विद्यार्थियों को भोपाल के लिए रवाना किया गया। बसों को विधायक शांतिलाल बिलवाल और कलेक्टर आशीष सक्सेना ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इन विद्यार्थियों में अधिकतर ऐसे थे जो पहली बार एसी बस में सवार हुए। गर्मी में की गई इस व्यवस्था से सभी उत्साहित नजर आए। रात्रि विश्राम देवास में कर सोमवार सुबह 6 बजे सभी भोपाल के लिए रवाना होंगे। जहां मुख्यमंत्री सभी को लैपटॉप के लिए 25 हजार रुपए की राशि का चेक प्रदान करेंगे।

रविवार सुबह साढ़े 10 बजे चार एसी बसों से 219 विद्यार्थियों को भोपाल के लिए रवाना हुए।