Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» लोक अदालत में ज्यादा से ज्यादा प्रकरणों का निराकरण कराएं : अपर जिला न्यायाधीश

लोक अदालत में ज्यादा से ज्यादा प्रकरणों का निराकरण कराएं : अपर जिला न्यायाधीश

लोक अदालत की तैयारियों की समीक्षा कर किया पौधरोपण भास्कर संवाददाता | पेटलावद 14 जुलाई को वृहद लोक अदालत का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 04:45 AM IST

लोक अदालत की तैयारियों की समीक्षा कर किया पौधरोपण

भास्कर संवाददाता | पेटलावद

14 जुलाई को वृहद लोक अदालत का आयोजन होगा। हमारा प्रयास है कि लोक अदालत में अधिकाधिक प्रकरणों का निराकरण हो। ताकि उच्च न्यायालय व सर्वोच्च न्यायालय की शीघ्र व सस्ते न्याय की मंशा पूर्ण हो सके और पक्षकारों को त्वरित न्याय प्राप्त हो।

उक्त बात अपर जिला न्यायाधीश सुनील मालवीय ने अभिभाषक कक्ष में लोक अदालत की तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक में कही। मालवीय ने कहा बारिश के मौसम में पक्षकारों को कठिनाई न हो इस बात का भी विशेष ध्यान रखा जाए। व्यवहार न्यायाधीश संजीव कटारे ने कहा पूर्व की लोक अदालतों में अभिभाषक संघ का विशेष सहयोग रहा तथा इस लोक अदालत में भी विशेष सहयोग की अपेक्षा है। बार व बेंच के सामंजस्य से ही लोक अदालत की सफलता संभव है। अभिभाषक संघ अध्यक्ष विनोद पुरोहित ने कहा अभिभाषक संघ का पूरा प्रयास होगा। अभिभाषक संघ के सदस्यों द्वारा इस संबंध में पक्षकारों को भी प्रेरित किया जा रहा है। बैठक में व्यवहार न्यायाधीश सूर्यपालसिंह राठौर, संघ के उपाध्यक्षद्वय अनिल देवड़ा व नीलेशसिंह, वरिष्ठ अभिभाषक एनके शाह, एएल व्होरा, मनीष व्यास, कैलाश चौधरी, अविनाश उपाध्याय, राहिल मंसूरी, मनोज पुरोहित, रविराज पुराेहित, अभियोजन अधिकारी आरपी रॉय, पीएल चौहान व न्यायालयीन कर्मचारी उपस्थित थे।

बैठक के बाद अपर जिला न्यायाधीश सुनील मालवीय, व्यवहार न्यायधीशद्वय संजीव कटारे व सूर्यपालसिंह राठौर, अभिभाषक संघ अध्यक्ष विनोद पुरोहित व अभिभाषक संघ के समस्त पदाधिकारियों, सदस्यों व न्यायालयीन कर्मचारियों ने संपूर्ण न्यायालय परिसर में पौधा रोपण किया। मालवीय ने कहा पौधारोपण के बाद पौधों की सुरक्षा व उनका रखरखाव करना भी हमारा कर्त्तव्य है, जिससे ये पौधे पेड का रूप लेकर न्यायालय परिसर के प्राकृतिक सौंदर्य में वृद्धि कर सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×