इंदौर

--Advertisement--

लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद अब भी तालाब में मिल रहा नालियों का पानी

आओ संवारे तालाब/कुएं/बावड़ी राणापुर. तालाब के इस हिस्से में सीवर इंटर सेप्टर का काम रुका हुआ है। इस बारे में...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 04:35 AM IST
लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद अब भी तालाब में मिल रहा नालियों का पानी
आओ संवारे तालाब/कुएं/बावड़ी

राणापुर. तालाब के इस हिस्से में सीवर इंटर सेप्टर का काम रुका हुआ है।

इस बारे में एसडीएम केसी परते ने कहा अतिक्रमणकर्ताओं को अतिक्रमण हटाने के नोटिस दिए थे। उन्होंने बताया है कि अतिक्रमण हटा लिए हैं। तहसीलदार को इसकी जांच कर वर्तमान स्थिति की रिपोर्ट देने को कहा है। उस रिपोर्ट के आधार पर अगली कार्रवाई तय होगी।

वहीं तहसीलदार नितिन चौहान बोले- हम लोग हमारी मांगों को लेकर सामूहिक अवकाश पर हैं, इसलिए एसडीएम के आदेश को लेकर जानकारी नहीं है।

व्यर्थ हो जाएगी 2 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि

तालाब के सौंदर्यीकरण व शुद्धिकरण के लिए 2 करोड़ 1 लाख रुपए की लागत की योजना का काम चल रहा है। सीवर इंटरसेप्टर भी इसी का एक हिस्सा है। इसका करीब 80 फीसदी काम पूरा हो चुका है। इसके रास्ते में लोगों द्वारा किया गया पक्का अतिक्रमण बाधा बन गया है। राह में बाधक इन अतिक्रमण को हटाने के लिए ठेकेदार ने नगर परिषद से अनेक बार कहा। नगर परिषद इसे राजस्व विभाग का मामला बताती रही। उसके बाद ठेकेदार ने काम ही बंद कर दिया। करीब एक साल बीतने पर भी निराकरण नहीं हो पाया। फिलहाल वार्ड 9 व 3 की गंदी नालियां तालाब में ही मिल रही। जिससे इसका पानी दूषित होकर बदबूदार हो गया है। बारिश का सीजन शुरू होने वाला है ऐसे में काम पूरा नहीं हुआ तो मुश्किलें बढ़ जाएगी। सीवर इंटरसेप्टर का काम पूरा नहीं होने पर तालाब का पानी प्रदूषित ही रहेगा जिससे 2 करोड़ से ज्यादा रुपए का खर्च व्यर्थ चला जाएगा।

X
लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद अब भी तालाब में मिल रहा नालियों का पानी
Click to listen..