हादसा / 50 बच्चों से भरी स्कूल बस के पास पलटा 17 टन एलपीजी गैस से भरा टैंकर

Dainik Bhaskar

Oct 28, 2018, 02:02 AM IST



टैंकर के नीचे दबा शिक्षक राम यादव, जिसे ग्रामीणों ने ही नजदीकी गांव से क्रेन बुलवाकर निकाला। टैंकर के नीचे दबा शिक्षक राम यादव, जिसे ग्रामीणों ने ही नजदीकी गांव से क्रेन बुलवाकर निकाला।
X
टैंकर के नीचे दबा शिक्षक राम यादव, जिसे ग्रामीणों ने ही नजदीकी गांव से क्रेन बुलवाकर निकाला।टैंकर के नीचे दबा शिक्षक राम यादव, जिसे ग्रामीणों ने ही नजदीकी गांव से क्रेन बुलवाकर निकाला।

  • एक महिला की मौत, साथी शिक्षकों को धक्का देकर कर दिया दूर, खुद चपेट में आ गया शिक्षक, पौन घंटे दबा रहा शिक्षक, काटना पड़ेंगे दोनों पैर
  • हादसे के दो घंटे बाद मौके पर पहुंची पुलिस, 10 किमी दूर बड़नगर की बजाय उज्जैन से पहुंची दमकल
  • शासन और पुलिस के पहुंचने से पहले ही ग्रामीणों ने गीले गद्दे और कंबल डालकर रोक दिया था गैस रिसाव

बड़नगर (नागदा). उज्जैन-बड़नगर रोड पर स्थित ग्राम खरसौद खुर्द के बस स्टैंड चौपाटी पर शनिवार सुबह करीब 9 बजे एलपीजी से भरा टैंकर पलट गया। इसमें एक महिला की मौत हो गई। घटना में प्राइवेट स्कूल का शिक्षक टैंकर के नीचे दबने से घायल हो गया। पौन घंटे बाद उसे ग्रामीणों ने निकाला।

 

पूरे घटनाक्रम में ग्रामीणों की सूझबूझ काम आई। खेत में काम कर रहे ग्रामीण तुरंत दौड़े और बच्चों को बचाने के लिए बस से बाहर ऐसी जगह फेंका, ताकि ज्यादा चोट न लगे और वक्त भी जाया न हो। फिर अन्य टैंकर चालकों से पूछकर खुद ही गैस रिसाव रोका और बड़े हादसे को टाला। वहीं पुलिस और बड़नगर नगर पालिका की बड़ी लापरवाही सामने आई। दो घंटे तक पुलिस नहीं पहुंची, वहीं नपा ने समय पर फायर ब्रिगेड नहीं भेजी। 

 

एलपीजी से भरा टैंकर गुजरात के वडोदरा से उज्जैन के घट्टिया स्थित बॉटलिंग प्लांट जा रहा था। पलटने के बाद टैंकर से हुए एलपीजी के रिसाव से भगदड़ मच गई। चौपाटी की सारी दुकानें ताबड़तोड़ बंद कर दी गईं। हादसे में गांव के उप सरपंच मांगीलाल पाटीदार की पत्नी 56 वर्षीय सागर बाई की टैंकर के नीचे दबने से मौत हो गई।

 

शिक्षक राम यादव निवासी बड़नगर चौपाटी पर अन्य शिक्षकों के साथ खड़ा था। टैंकर पलटता देख वो साथी शिक्षिकाओं को बचाने में सफल रहा, मगर खुद चपेट में आ गया। टैंकर के नीचे वह करीब पौन घंटे दबा रहा। राम को बाम्बे हॉस्पिटल इंदौर रैफर किया गया है। डॉक्टरों के मुताबिक राम के दोनों पैर काटना पड़ेंगे। हादसे में गांव के ही पोस्टमैन ओमप्रकाश पौराणिक का बेटा अर्पित चौपाटी पर डाक लेने आया था, उसे भी चोट आई है। उसे बड़नगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

COMMENT