अपर आयुक्त से कांग्रेसी बोले- ग्रीन वैली कॉलोनी नजूल की जमीन पर, उसे भी तोड़ो

Indore News - डायमंड कॉॅलोनी के रहवासियों को लेकर कांग्रेस शहर अध्यक्ष के साथ नेताओं का प्रतिनिधि मंडल शनिवार को नगर निगम के...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:45 AM IST
Indore News - mp news congress speaker to upper commissioner green valley colony on the ground of najole also break it
डायमंड कॉॅलोनी के रहवासियों को लेकर कांग्रेस शहर अध्यक्ष के साथ नेताओं का प्रतिनिधि मंडल शनिवार को नगर निगम के अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह से मिला। कार्रवाई को पक्षपातपूर्ण ठहराते हुए नेताओं ने पूछा कि क्या निगम भूमाफिया के लिए जमीन खाली करवा रहा है, ऐसा किसके कहने पर अमला भेजा और कार्रवाई की। जबकि पास की ही कॉलोनी ग्रीन वैली नजूल की जमीन पर है, उस पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। वहीं डायमंड कॉलोनी के रहवासियों ने संस्था से जमीनें ली हैं, नोटरी है कुछ की रजिस्ट्री भी है फिर कैसे कार्रवाई हो गई।

शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल, प्रवक्ता एवं महामंत्री शेख अलीम, पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल सहित अन्य नेता शनिवार को अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह से मिले और यह सवाल किए। इस दौरान लोगों को सामने लाकर नेताओं ने अधिकारियों से पूछा कि ऐसा क्या था कि अचानक कार्रवाई करना पड़ गई। अपर आयुक्त बोले अवैध कॉलोनी में नया निर्माण किया जाना मना है, इसके चलते सिर्फ नए निर्माण पर कार्रवाई की गई। शहर में अवैध कॉलोनियों की संख्या सैकड़ों में है क्या ऐसी सख्ती सभी स्थानों पर दिखाई जाती है।

अवैध है तो उसे पहले ही क्यों नहीं रोका जाता?

निगम के अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह से चर्चा करता कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल।

नेताओं ने कहा कि दूसरी तरफ अगर अवैध निर्माण हो रहा है तो उसे बनने से पहले ही रोका जाना चाहिए। यह क्या तरीका है कि मकान बनने के बाद उसे तोड़ने टीम पहुंच जाती है, बीओ, बीआई क्या देखते हैं। आगे से ऐसी कोई कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। शेख अलीम ने उपायुक्त महेंद्र सिंह चौहान को भी कहा कि वह जैसी दबंगता गरीबों के मकान तोड़ने में दिखाते हैं, वैसे रसूखदारों के अतिक्रमण के आगे नहीं दिखती। इस पर उपायुक्त ने कहा मुझे जो आदेश मिलता है उसका पालन करता हूं। अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह ने नेताओं से कह दिया कि आप बता दें, किन पर कार्रवाई करें। इस पर नेताओं ने कहा हम आपको सूची देते हैं, क्या कार्रवाई करेंगे आप।

चोइथराम मंडी के बाहर 85 दुकानें किसकी जमीन पर लगी, किसी को नहीं पता

इंदौर | चोइथराम मंडी के बाहर बनी चाय-नाश्ते की 85 दुकानों को लेकर मंडी प्रशासन अब दस्तावेज खंगाल रहा है। ये सभी दुकानें अतिक्रमण कर लगाई गई हैं। इन्हें हटाने की कार्रवाई 10 साल पहले भी की गई थी, लेकिन ये फिर से लग गईं। मालिकाना हक पता चलते ही कार्रवाई की जाएगी। ये 85 दुकानें मंडी के मुख्य नाके से अंदर तक में लगी हुई हैं। इन दुकानों पर मालिकाना हक को लेकर मंडी प्रशासन के पास जानकारी नहीं है। शुक्रवार को फल मंडी के व्यापारियों ने अतिक्रमण की कार्रवाई का विरोध दर्ज करवाते हुए मंडी प्रशासन पर आरोप लगाए थे। इसके बाद मंडी प्रशासन ने इन दुकानों के दस्तावेज खंगालना शुरू किए। अपर कलेक्टर व भार साधक अधिकारी कैलाश वानखेड़े ने बताया उक्त 85 दुकानों के संबंध में मंडी सचिव सतीश पटेल से जानकारी मांगी तो उन्होंने बताया अभी यह पता नहीं चल पाया कि जिस जमीन पर दुकानें बनी हैं उसका मालिक कौन है।

X
Indore News - mp news congress speaker to upper commissioner green valley colony on the ground of najole also break it
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना