पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खोपरा गोला का टेंडर 135.50 रुपए में

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर| खोपरा गोला का टेंडर 135.50 रुपए में गया जबकि पिछला टेंडर 140.13 रुपए में गया था। खोपरा गोला की आवक 8212बोरी की रही। टिपटूर में पिछले दो दिन से भारी वर्षा होने से तैयार माल भी लदान नहीं हो रहा है और नया माल तैयार भी करने की स्थिति ही नहीं है। राखी त्योहार की खोपरा गोला में मांग बनी हुई है। टिपटूर से लदान में देरी हुई तो बाजार में अल्प अवधि के लिए शार्टेज की स्थिति बन सकती है। खोपरा गोला आध्या 183 चक्री 183 रुपए के भाव बताए गए। साबूदाना के भावों की तेजी-मंदी से लोकल व्यापारियों को बड़ा घाटा होने लगा है। पिछले दिनों तेजी की स्थिति बनाकर फैक्टरी वालों ने छोटे व्यापारियों एवं उपभोक्ताओं का खुलकर शोषण किया है। कम भाव का साबूदाना 100 रुपए घटकर 6300 रुपए रह गया। इंदौर में मूंगफली दाना पड़तल से नीचे बिकने के बावजूद उल्लेखनीय मांग का अभाव बना हुआ है। बख्खर 70 से 85 बटानी 85 से 110 रुपए किलो के भाव बताए गए।

तमिलनाडु में वर्षा की कमी

महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र जैसे हल्दी उत्पादक राज्यों में अच्छी वर्षा हो जाने से फसल को लाभ मिलेगा, इस वजह से थोक व्यापारी एवं पावडर बनाने वालों की मांग ठंडी पड़ गई है। वैसे भी वर्षा के सीजन में हल्दी पावडर में ही अच्छी मात्रा में मांग रहती है। इसी वजह से हाजर-वायदों में मंदी का वातावरण बन गया। हालांकि तमिलनाडु में वर्षा की कमी है। इस राज्य में हल्दी के उत्पादन में गिरावट आएगी, लेकिन अन्य उत्पादक क्षेत्रों में फसल की स्थिति ठीक है। इसके अलावा उत्पादक क्षेत्रों में स्टॉक भी पर्याप्त मात्रा में है, इससे तमिलनाडु में उत्पादन कम होने के बाद भी एकंदर में भावों पर बड़ा असर पड़ने वाला नहीं है। तमिलनाडु में इस वर्ष अब तक 11 लाख बोरी हल्दी की आवक हो चुकी है। ऐसी आशा है किसानों के पास 2 लाख बोरी का स्टॉक है। इसी तरह महाराष्ट्र में हल्दी का स्टॉक अधिक बताया जा रहा है।

सियागंज किराना बाजार में शकर 3380 से 3410 गुड़ कटोरा 3650 से 3700 हल्दी काढ़ी 9800 से 11200 लाल गाय 130 से 131 पावडर-501 1541 सुपर क्राउन 771 मयूर 1375 खोपरा गोला 165 से 184 खोपरा बूरा व्हील 3400 सनगोल्ड 2175 ताज 2550 साबूदाना 6500 से 6700 मीडियम 6800 से 6900 बेस्ट 7100 से 7300 ग्लास 8000 से 8200 वरलक्ष्मी 7800 1 किलो पैकिंग में 8500 सोल्जर 7350 सच्चामोती रायलर| 7550 1 किलो 7925 सच्चासाबू 8370 1 किलो में 8860 कालीमिर्च गारवल 345 से 350 एटम 352 से 356 मटरदाना 385 से 405 जीरा राजस्थान 188 से 192 ऊंझा हल्का 195 से 198 मध्यम 205 से 212 बेस्ट 215 से 221 सौंफ मोटी 90 से 95 मीडियम 115 से 125 बेस्ट 140 से 200 बारीक 160 से 175 नारियल मद्रास नया पानी 120 भरती 1500 से 1550 160 भरती 1600 से 1650 200 भरती 1700 से 1750 250 भरती 1750 से 1800 लौंग चालू 490 से 525 बेस्ट 560 से 570 दालचीनी 275 से 280 जायफल 550 से 625 बेस्ट 650 से 675 जावत्री 1950 से 2000 बड़ी इलायची 585 से 625 मध्यम 650 से 675 बेस्ट 750 से 825 पत्थर फूल 360 से 425 बेस्ट 440 बाद्यान फूल 525 से 560 शाहजीरा 340 से 365 ग्रीन 520 से 530 तेजपान 75 से 82 तरबूज मगज 168 से 170 नागकेसर 640 से 660 सौंठ 240 से 280 खसखस चालू 850 से 900 मीडियम 950 से 975 बेस्ट 1000 से 1050 एक्स्ट्रा बेस्ट 1125 से 1200 धौली मूसली 775 से 850 वनदेवी दाना 751- 2600 वनदेवी पाउच में 2640 121 न. दाना 2400 पाउच 2440 111 न. डिब्बी 2200 पाउच 2240 पीला पावडर 750 सिंदूर 6200 पूजा बादाम 70 से 75 बेस्ट 140 से 155 अरीठा 60 से 65 सिंघाड़ा 100 से 105 बड़ा 135 से 140 मोरधन अल्पाहार 9240 हरी इलायची 4250 से 4375 मीडियम बोल्ड 4450 से 4600 बोल्ड 4850 से 5000 एक्स्ट्रा बोल्ड 5100 से 5200 काजू-240 750 से 760 काजू डब्ल्यू 320- 640 से 650 काजू डब्ल्यू 1 630 से 635 एस डब्ल्यू 300- 620 से 625 एसएस डब्ल्यू 610 से 615 काजू जेएच 625 से 635 टुकड़ी 590 से 615 बादाम मगज 695 से 700 नकद 705 से 710 मोटी 760 टॉच 550 से 570 किशमिश कंधारी 300 से 375 बेस्ट 400 से 450 इंडियन 140 से 175 बेस्ट 185 से 210 चारोली 725 से 750 बेस्ट 800 से 815 मुनक्का 300 से 450 बेस्ट 550 से 600 अंजीर 750 से 950 बेस्ट 1150 से 1225 मखाना 625 से 750 बेस्ट 800 से 850 केसर 78 से 105 ऊपर में 115 से 128 मैदा कट्‌टे में 1280 से 1330 रवा कट्‌टे में 1280 से 1330 आटा कट्‌टा 1230 से 1350 बेसन 2800 से 3000 पोहा 3500 से 3700 सच्चामोती पोहा 3950 रुपए।

धनिए में मंदी के सर्किट

रामगंज|
कुछ सटोरियों द्वारा धनिए का आयात एवं विदेशों में उत्पादन अधिक होने का प्रचार कर वायदों में 4-4 प्रतिशत मंदी के सर्किट लगवा दिए हैं। किसान वर्ग बोवनी में व्यस्त होने की वजह से मंडियों में आवक कम है। मप्र, गुजरात में अच्छी वर्षा हो जाने से स्टॉकिस्ट माल की बिक्री कर सकते हैं। इस वजह से भी तेजी आने के संयोग कम बताए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...