कालीमिर्च का तस्कर आयात बढ़ेगा

Indore News - इंदौर| लोकसभा के चुनाव की वजह से सीमाओं पर बड़ी चौकसी होने एवं आपूर्ति घटने से पिछले दिनों कालीमिर्च में तेजी आई थी।...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:00 AM IST
Indore News - mp news import of smuggled black pepper will increase
इंदौर| लोकसभा के चुनाव की वजह से सीमाओं पर बड़ी चौकसी होने एवं आपूर्ति घटने से पिछले दिनों कालीमिर्च में तेजी आई थी। ग्राहकी के अभाव में भाव पुन: घटने लगे हैं। चौकसी घटते ही तस्कर आयात फिर से बढ़ सकता है। पिछले दिनों काली मिर्च में स्टॉकिस्टों की बेचवाली कमजोर पड़ गई थी, किंतु बढ़े भावों पर मांग का समर्थन नहीं मिला। उत्पादक क्षेत्रों में वर्षा की कमी एवं तेज गर्मी से बेचवाली भी घट गई थी। वैसे भी गर्मी के सीजन में कालीमिर्च की खपत सामान्य से कुछ कम होती है। आगामी फसल कुछ मात्रा में कम आने के बावजूद वियतनाम की कालीमिर्च ने भारतीय किसानों का भविष्य खराब कर रखा है। विश्व बाजार में निर्यात मांग कमजोर है। इससे भी तेजी स्थायी नहीं है।

मरकरा के भावों में कमी

पिछले दिनों केरल में हल्की-सी बारिश हुई है। केरल कर्नाटक में आवक कमजोर होने के बाद तेजी की धारणा नहीं है। श्रीलंका में स्थिति सामान्य होने के बाद आयात तेजी से बढ़ सकता है। कर्नाटक की मंडियों में मरकरा कालीमिर्च पिछले दिनों घटकर 320 से 330 रुपए रह गई। हल्दी भावों में तेजी का दौर शायद शुरू हो गया है। हल्दी सटोरियों की पकड़ में आ गई है। इससे भावों में तेजी आने लगी है। तेजी के दौर में खेरची व्यापारियों की मांग भी बढ़ गई है। हल्दी पावडर 501-1681, विराट 845 गोयल काढ़ी के भाव 115 रुपए के भाव बोले जाने लगे हैं। इन भावों पर पूछपरख बताई जाती है। जीरे के भावों में भी तेजी का वातावरण बना हुआ है। हरी इलायची में तेजी के बाद ग्राहकी करीब-करीब लुप्त हो गई है। महंगी होने से खेरची मांग बुरी तरह से प्रभावित हुई है। बादाम मगज में 5 रुपए का सुधार रहा और कालीमिर्च में 2 रुपए किलो की कमी की गई है।

सियागंज किराना बाजार में शकर 3400 से 3430 गुड़ लड्‌डू 3650 कटोरा 3650 भेली 3250 से 3300 हल्दी काढ़ी 11000 से 11500 लाल गाय 132 पावडर-501 1681 सुपर क्राउन 831 मयूर 1475 खोपरा गोला 190 से 205 खोपरा बूरा व्हील 4500 सनगोल्ड 2400 ताज 2700 साबूदाना 6250 से 6400 मीडियम 6500 से 6700 बेस्ट 7000 से 7100 ग्लास 7500 से 8000 वरलक्ष्मी 7400 1 किलो पैकिंग में 7800 सोल्जर 7000 सच्चामोती रायलर| 7950 1 किलो 8300 सच्चासाबू 8120 1 किलो में 8870 कालीमिर्च गारवल 360 से 365 एटम 370 से 380 मटरदाना 410 से 420 जीरा राजस्थान 186 से 189 ऊंझा हल्का 192 से 195 मध्यम 198 से 207 बेस्ट 212 से 218 सौंफ मोटी 88 से 98 मीडियम 105 से 125 बेस्ट 145 से 200 बारीक 155 से 170 नारियल मद्रास नया पानी 120 भरती 1300 से 1400 160 भरती 1400 से 1450 200 भरती 1450 से 1500 250 भरती 1450 से 1500 लौंग चालू 550 से 580 बेस्ट 585 से 615 दालचीनी 275 से 285 बेस्ट 290 से 300 जायफल 475 से 550 बेस्ट 625 से 650 जावत्री 1575 बेस्ट 1625 बड़ी इलायची 645 से 675 बेस्ट 725 से 775 पत्थर फूल 360 से 425 बेस्ट 440 बाद्यान फूल 400 से 415 बेस्ट 425 से 430 शाहजीरा 330 से 340 ग्रीन 550 तेजपान 80 से 85 तरबूज मगज 183 से 188 नागकेसर 630 से 650 सौंठ 225 से 280 खसखस चालू 340 से 385 बेस्ट 440 से 480 एक्स्ट्रा बेस्ट 625 से 650 धौली मूसली 750 से 785 वनदेवी दाना 751- 2600 वनदेवी पाउच में 2640 121 न. दाना 2400 पाउच 2440 111 न. डिब्बी 2200 पाउच 2240 पीला पावडर 760 से 780 सिंदूर 6200 पूजा बादाम 70 से 75 बेस्ट 140 अरीठा 60 से 65 सिंघाड़ा 92 से 95 बड़ा 130 से 135 मोरधन अल्पाहार 9430 हरी इलायची 2250 से 2400 मीडियम बोल्ड 2475 से 2500 बोल्ड 2625 से 2750 एक्स्ट्रा बोल्ड 2850 से 3000 काजू-240 810 से 830 काजू डब्ल्यू 320- 740 से 745 डब्ल्यू 1- 730 से 735 एसडब्ल्यू 300-715 से 720 एसएस डब्ल्यू 700 से 710 काजू जेएच 705 से 725 टुकड़ी 600 से 640 बादाम मगज 645 से 650 नकद 660 से 670 टॉच 525 से 550 खारक थोक में 7000 से 7500 मीडियम 8000 से 9000 बेस्ट 9000 से 9500 किशमिश कंधारी 325 से 375 बेस्ट 400 से 450 इंडियन 145 से 165 बेस्ट 180 से 190 एक्स्ट्रा बेस्ट 210 से 235 चारोली 700 से 725 बेस्ट 775 से 825 मुनक्का 300 से 450 बेस्ट 550 से 600 अंजीर 750 से 950 बेस्ट 1200 से 1350 मखाना 650 से 725 बेस्ट 775 से 825 केसर 80 से 110 ऊपर में 123 से 126 मैदा कट्‌टे में 1150 से 1200 रवा कट्‌टे में 1250 से 1260 आटा कट्‌टा 1120 से 1150 बेसन 3000 से 3200 पोहा 3500 से 3700 सच्चामोती पोहा 4050 रुपए।

विशेष पैकेज की घोषणा

पिछले दिनों केरल सरकार ने काजू कारखानों के लिए ऋणों के पुनर्गठन और सुनिश्चित अवधि का ब्याज भुगतान करने के लिए एक विशेष कार्यक्रम की घोषणा की है। विशेष कर ये उद्योग भारी घाटे एवं कर्ज की वजह से बंद हो गए हैं। उद्योगों को बैंकों का दबाव भी झेलना पड़ रहा है। केरल सरकार ने 111 कारखानों को कर्ज दिलाने की व्यवस्था की है। राज्य में 865 से अधिक कारखाने हैं। इनमें से 700 से अधिक बंद है। 2.5 लाख मजदूर बेकार हो गए हैं। काजू प्रसंस्करण और निर्यातक महासंघ ने कहा है कि सरकारी घोषणा से 111 इकाइयों को फायदा मिलेगा।

X
Indore News - mp news import of smuggled black pepper will increase
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना