दौरा / मंत्री पटवारी को दिखी फूटी पाइप लाइन, जिम्मेदार को मौके पर ही निलंबित करने के दिए निर्देश

X

  • लोगों ने विधायक से बिजली, पानी और सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं नहीं मिलने पर शिकायत की
  • डीएवीवी में कुलपति की नियुक्ति को लेकर कहा- पांच रिमांडर भेज चुके हैं

Jul 15, 2019, 08:04 PM IST

इंदौर. उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी सोमवार सुबह क्षेत्र के दौरे पर निकले। विधानसभा में घूमते हुए उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और अधिकारियों पर कार्रवाई के निर्देश भी दिए। इस दौरान एक जगह नर्मदा पाइप लाइन फूटी होने पर पानी की बर्बादी से वे जिम्मेदारों पर जमकर बिफरे और मौके से ही जिम्मेदार अधिकारी को तत्काल सस्पेंड करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कई जगह पौधारोपण भी किया।  

 

सुबह मंत्री पटवारी के दौरे की जानकारी लगते ही अधिकारियों ने अपने-अपने फील्ड पर मोर्चा संभाल लिया। विधायक सुबह बिजलपुर क्षेत्र में लोगों ने मिलने पहुंचे, जहां लोगों ने बिजली पानी और सड़क की समस्या से उन्हें अवगत करवाया। भ्रमण के दौरान उन्हें एक जगह पर पाइप-लाइन फूटी दिखाई दी, जिससे पीने का पानी बर्बाद हो रहा था। यह देख वे विफर पड़े और मौके पर मौजूद अधिकारी से कहा कि यहां लोगों को पीने का पानी नसीब नहीं हो रहा है और इस प्रकार से पानी की बर्बादी कर रहे हो। जो भी जिम्मेदार है उसे तत्काल प्रभाव ने निलंबित किया जाया। इसके बाद वे धन्वंतरी नगर और प्रगति नगर में लोगों से मिले। वार्ड 81 स्थिति देवेंद्र नगर और गायत्री नगर में भी लोगों ने मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने का आग्रह किया।

 

कुलपति मामले में कहा - राज्यपाल काे पांच रिमाइंडर भेजे
उधर, 21 दिन से प्रदेश की सबसे बड़ी देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी का कामकाज ठप होने और कुलपति की नियुक्ति को लेकर राजभवन और सरकार के टकराव पर सफाई देते हुए कहा कि राज्यपाल की गरिमा बनाए रखना मंत्री का दायित्व है, उसे मैं निभा रहा हूं। राज्यपाल को पांच बार रिमाइंडर भेजा गया है, साथ ही उनसे कमिश्नर को चार्ज देने की बात भी कही है, लेकिन उन्होंने अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं लिया है। हालांकि नियमों के मुताबिक राजभवन और सरकार की सहमति से कुलपति की नियुक्ति की जाती है। सरकार ने नामों का पैनल भी भेजा है, लेकिन राजभवन बार-बार पैनल वापस कर रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना