• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • mp news indore people pelt stones on bus carrying children injuring 9 due to death of goat

हादसा / ब्रेक फेल होने से बस के पहिए के नीचे आया बकरी का बच्चा, गुस्साए लोगों ने किया बस में पथराव, 9 बच्चे घायल



हादसे के बाद बच्चों को अस्पताल लाया गया। हादसे के बाद बच्चों को अस्पताल लाया गया।
X
हादसे के बाद बच्चों को अस्पताल लाया गया।हादसे के बाद बच्चों को अस्पताल लाया गया।

 

  • स्कूल जाते समय हुआ हादसा, बस में सवार थे 50 बच्चे
  • काजी पलासिया के पास अचानक बस के ब्रेक फैल होने से हुआ हादसा

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2019, 06:49 PM IST

इंदौर. 50 बच्चों से भरी एक निजी स्कूल की बस के शनिवार सुबह ब्रेक और स्टेयरिंग फेल होने से बस अनियंत्रित हो गई। ड्राइवर ने बच्चों को बचाने के लिए बस खेत में उतार दी। इसी दौरान एक बकरी के बच्चे को बस की टक्कर लग गई, जिससे उसका पैर टूट गया। इसके बाद गांव वालों ने बस पर पथराव कर दिया। इससे नौ बच्चे घायल हो गए। एक महिला ने ड्राइवर के गले को दबाते हुए उसे काट लिया।

 

खुड़ैल पुलिस के मुताबिक घटना शनिवार सुबह 9 बजे की है। सोनी इंटरनेशनल स्कूल की बस (एमपी09/एफए/8616) बच्चों को स्कूल छोड़ने जा रही थी। इसी दौरान काजी पलासिया में अचानक बस के स्टेरिंग और ब्रेक फेल हो गए।

 

ड्राइवर मुकेश ने बच्चों और बस को बचाने के लिए बस खेत में उतार दी। खेत में कुछ बकरियां चर रही थीं, तो एक बकरी को बस से टक्कर लग गई। इससे बकरी का पैर टूट गया। यह बात पता चलते ही बकरी मालिक ने करीब 20 गांव वालों को बुला लिया। गांव वालों ने बस को घेर लिया और विवाद करने लगे। इस कारण क्षेत्र में तनाव की स्थिति निर्मित हो गई।

 

ड्राइवर मुकेश और कंडक्टर ने बस के गेट और कांच लगा लिए। ड्राइवर ने बकरी मालिक और गांव वालों को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह लोग नहीं माने। इसी दौरान एक महिला बस में चढ़ गई और ड्राइवर का गला दबाते हुए उसे काट लिया। गांव वाले इसके बाद भी नहीं रुके और बस पर पथराव कर दिया।

 

बस में करीब 50 बच्चे सवार थे। पथराव से बस बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। ड्राइवर चिल्लाया और सभी बच्चों को नीचे बस में नीचे लेटने के लिए कहा, लेकिन फिर भी पथराव से नौ बच्चे घायल हो गया। किसी ने डॉयल 100 को सूचना दी। डॉयल 100 मौके पर पहुंची और घायल नौ बच्चों को उपचार के लिए एमवायएच लेकर पहुंची।


बच्चों की देखभाल के लिए कुछ परिजन, स्कूल की टीचर्स भी अस्पताल पहुंचे। आरक्षक विजय पटेल ने बताया कि स्कूल की तरफ से भी लोग थाने पहुंचे। पुलिस ने मामले को शांत किया। ड्राइवर से पूछताछ की, लेकिन वो पथराव करने वालों को नहीं जानता है। स्टेयरिंग व ब्रेक फेल होने के कारण यदि बस पलटी खा जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

 

 

COMMENT