लाेकसभा चुनाव / ड्यूटी से मुक्ति पाने आए ऐसे आवेदन, लिखा - घर में शादी है, शुगर हो गई बख्श दो

X

  • मेडिकल बोर्ड जांचेगा बीमारी, झूठे को देंगे वीआरएस 

Mar 26, 2019, 01:24 PM IST

रतलाम. शुगर से आंखें कमजोर हो गई हैं। पीठासीन अधिकारी काम लिखा-पढ़ी वाला काम नहीं कर पाऊंगा। दिन में तीन से चार बार थोड़ा - थोड़ा भोजन करना पड़ता है। समय पर भोजन नहीं किया तो तबीयत बिगड़ सकती है। मुझे चुनाव ड्यूटी से मुक्त रखें। मेरे परिवार में शादी है। मेरे हाथ-पैर दर्द और थायराइड जैसी बीमारी इसलिए महादेय मुझे चुनाव ड्यूटी से मुक्ति रखा जाए।

 

इस आशय के आवेदन चुनाव में ड्यूटी लगने पर कर्मचारियो ने दिए हैं। लोकसभा चुनाव में जिले के 5500 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है, इनकी ट्रेनिंग शुरू होने वाली है। प्रशासन के पास अब तक 40 आवेदन पहुंच चुके हैं। इसमें 20 कर्मचारियों ने परिवार में शादी होने की बात कही है। पांच लोगों ने डायबिटीज बीमारी बताई है।
 
बीमारी के कारण छुट्टी मांगने वालों का मेडिकल बोर्ड करेगा चैकअप-जिला पंचायत सीईओ सोमेश मिश्रा ने बताया बीमारी के कारण छुट्टी मांगने वालों का मेडिकल बोर्ड से चैकअप करवाया जाएगा। 

 

जिन परिवारों में शादी है उन परिवारों की स्थिति देखकर निर्णय लेंगे : जिन कर्मचारियों ने परिवार में शादी होना कारण है उनके बारे में कर्मचारियों से पता करेंगे कि वाकई उन्हें क्यों छुट्टी दी जाए। परिवार में शादी किसकी है और उसमें उनकी भूमिका देखने बाद ही निर्णय लेंगे। 

 

बीमारी का झूठ पकड़ में आया तो सेवानिवृत्त करेंगे : सीईओ मिश्रा ने बताया मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में कर्मचारियों की बीमारी का झूठ पकड़ में आया तो नियमानुसार उन्हें स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) दी जाएगी। इसमें जिनकी 20 साल की नौकरी हो गई है या 50 साल की उम्र हो गई है उन कर्मचारियों को प्राथमिकता से छांटेंगे। 
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना