मप्र / रतलाम से सांसद बनने के बाद झाबुआ विधायक का पद छोड़ेंगे गुमान सिंह डामोर



डामाेर सांसद के साथ झाबुआ विधानसभा सीट से विधायक भी हैं। डामाेर सांसद के साथ झाबुआ विधानसभा सीट से विधायक भी हैं।
X
डामाेर सांसद के साथ झाबुआ विधानसभा सीट से विधायक भी हैं।डामाेर सांसद के साथ झाबुआ विधानसभा सीट से विधायक भी हैं।

  • लोकसभा चुनाव में डामोर ने कांग्रेस के कांतिलाल भूरिया को 90 हजार से ज्यादा मतों से पराजित किया था
  • भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने डामोर के विधायकी छोड़ सांसद बने रहने की घोषणा की

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2019, 04:22 PM IST

इंदौर. मध्यप्रदेश की रतलाम-झाबुआ संसदीय सीट से भाजपा सांसद और झाबुआ विधानसभा क्षेत्र से विधायक गुमान सिंह डामोर विधायक पद से इस्तीफा देंगे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने मंगलवार को इस बात की घोषणा करते हुए कहा कि डामोर विधायक पर से इस्तीफा देंगे। गुमान सिंह डामोर के इस्तीफा देने के साथ ही प्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के विधायकों की संख्या 108 रह जाएगी। सदन में कांग्रेस के 114 विधायक हैं।

 

डामोर ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में रतलाम-झाबुआ संसदीय सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को 90 हजार से ज्यादा मतों से पराजित किया। पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में झाबुआ विधानसभा सीट पर डामोर ने भूरिया के बेटे विक्रांत भूरिया को पराजित किया था।

 

रतलाम-झाबुआ लोकसभा सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट रही है। अब तक भाजपा यहां से केवल दो बार जीती है। 2014 के मोदी लहर में भाजपा के स्वर्गीय दिलीप सिंह भूरिया ने यह सीट जीती थी, लेकिन उनके निधन के बाद हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने यह सीट फिर जीत ली थी। कांग्रेस के कांतिलाल भूरिया ने यहां से दिलीप सिंह की बेटी निर्मला भूरिया को पराजित किया था। इसके बाद भाजपा के लिए चुनौती भरी इस सीट पर पार्टी ने विधायक डामोर को कांतिलाल भूरिया के सामने उतारा और उन्होंने जीत हासिल की। इस लोकसभा में मप्र से डामोर ही ऐसे विधायक रहे, जिन्हें पार्टी ने लोकसभा के लिए पार्टी की ओर से टिकट दिया था। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना