इंदौर

--Advertisement--

बोरवेल में गिरा 4 साल का बच्चा, गांववालों ने 13 फीट खुदाई के बाद बनाई सुरंग; 3.5 घंटे में किया रेस्क्यू

पानी के कटाव से बने केसिंग पाइप के बाहर बने गड्ढे में 12 फीट की गहराई पर बच्चा अटक गया था।

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 09:48 AM IST
13 फीट खुदाई के बाद बोरवेल तक सु 13 फीट खुदाई के बाद बोरवेल तक सु

रतलाम(मध्यप्रदेश). प्रदेश के नामली से 7 किलोमीटर दूर सीखेड़ी में रविवार दोपहर करीब 3.30 बजे खजूर बीन रहा चार वर्षीय बच्चा बोरवेल के गड्ढे में गिर गया। बोरवेल करीब 450 गहरा था। पानी के कटाव से बने केसिंग पाइप के बाहर बने गड्ढे में 12 फीट की गहराई पर बच्चा अटक गया। गांव के लोग एकत्र हुए और बोरवेल के पास जेसीबी से गड्ढा खोदकर शाम 6.50 बजे बच्चा को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। एहतियातन उसे जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है।

बोरवेल के गड्ढे में गिरा तो साथी बच्चों ने घरवालों काे दी जानकारी
- बच्चे के दादा भागीरथ के मुताबिक, दोपहर में उनके बेटे रायसिंह हायरी का बच्चा कनिष्क उर्फ गणेश गांव के दो-तीन बच्चों के साथ रामचंद्र हायरी के खेत में खजूर बीन रहा था। गणेश बोरवेल के गड्ढे में गिरा तो साथी बच्चों ने गणेश की मां संगीता और मुझे बताया। मैंने गणेश काे आवाज लगाई तो उसने बोर के अंदर से जवाब दिया।

- बड़े बेटे कारूलाल और गांव के राजेश रत्तीकार को बताया। राजेश ने मोबाइल से फोन लगाकर गांव के लोगों को घटना की जानकारी दी।

13 फीट खुदाई के बाद बनाई सुरंग
- नामली थाना प्रभारी आर.सी. कोली, तहसीलदार गुलाबसिंह परिहार और मुकेश जाट अपनी जेसीबी लेकर मौके पर पहुंच गए। बच्चा गणेश बोरवेल के गड्ढे में 12 फीट गहराई में अटका था। जेसीबी संचालक जाट ने ऑपरेटर राजेश जाट को बुलाया।

- राजेश ने दोपहर 4 बजे से बोरवेल के गड्ढे से करीब 3 फीट दूर गड्ढा खोदना शुरू कर दिया।13 फीट खुदाई के बाद गांव के जालमसिंह देवड़ा, मुकेश जाट, दिनेश पंवार, जितेंद्र जाट, बंकट जाट गड्‌ढे में उतरे और बोरवेल तक सुरंग बनाकर गड्‌ढे में फंसे गणेश को 6.50 बजे बाहर निकाल लिया।

बच्चे की हालत खतरे से बाहर
सीएमएचओ प्रभाकर ननावरे ने बताया बच्चे की हालत खतरे से बाहर है। उसे आब्जर्वेशन में आईसीयू में रखा है। सोमवार सुबह उसे अस्पताल से छुट्टी मिलने की उम्मीद है।

X
13 फीट खुदाई के बाद बोरवेल तक सु13 फीट खुदाई के बाद बोरवेल तक सु
Click to listen..