--Advertisement--

लोगों के सहयोग से बने सफाई में नंबर-1 : सिंह, नए निगम आयुक्त बोले- इसे बरकरार रखेंगे

सिंह इससे पहले स्मार्ट सिटी आफिस और नगर निगम में सभी अधिकारियों से मिले और जो काम पेंडिंग थे, वे निपटाए।

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 05:43 AM IST
New Indore Municipal Corporation Commissioner will take charge today

इंदौर. नगर निगम और इसमें काम करने वाले 14 हजार अधिकारी-कर्मचारियों ने अपना काम ईमानदारी से किया। इसमें जनता, नेता, मीडिया का भी सहयोग मिला। इसी कारण स्वच्छता में हम शहर को नंबर-1 बना पाए। नए निगमायुक्त आशीष सिंह पहले इंदौर में रह चुके हैं, सिंहस्थ के दौरान 3 माह मेरे साथ उज्जैन में काम किया है, इसलिए उन्हें भी किसी तरह की परेशानी नहीं आएगी। यह बात निगमायुक्त मनीष सिंह ने इंदौर नगर निगम के कार्यकाल के अंतिम दिन मीडिया से चर्चा में कही। उन्होंने कहा कि एक हजार करोड़ के सीवरेज और पानी के काम होना हैं। यहां के लोग सहयोगी हैं, इसलिए किसी भी काम करने वाले व्यक्ति को परेशानी नहीं होगी।

आखिरी दिन भी शाम 4 बजे तक करते रहे काम
सिंह इससे पहले स्मार्ट सिटी आफिस और नगर निगम में सभी अधिकारियों से मिले और जो काम पेंडिंग थे, वे निपटाए। निगम इंजीनियर अशोक शर्मा के स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति की फाइल पर साइन किया। वहीं आशीष सिंह बुधवार को ज्वॉइन करेंगे।

काम का रिपोर्ट कार्ड : बतौर निगमायुक्त जो कर गए

शहर को सफाई में नंबर-1 बनाने में मेयर के साथ मुख्य भूमिका। शहर को पशु मुक्त कराया अवैध होर्डिंग हटाए। निगम में बायोमेट्रिक अटेंडेंस लगवाई। रिमूवल गैंग को मजबूत किया। बड़े पैमाने पर भर्ती कर सक्षम बनाया। हाई कोर्ट से सुप्रीम कोर्ट तक में निगम को जीत दिलाई। कई क्षेत्रों में पशु पालकों, गुंडों के मकान तोड़े।
जो नहीं कर पाए : बीजासन माता मंदिर और चिड़ियाघर के सामने बने सिद्धेश्वर हनुमान मंदिर का जीर्णोद्धार। तीन साल में निगम की बिल्डिंग नहीं बना पाए तो गांधी हाॅल के जीर्णोद्धार में भी देरी हुई। हाउसिंग फॉर आॅल में अपेक्षाकृत प्रगति नहीं मिली।

नए निगमायुक्त बोले : भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करूंगा

नए निगमायुक्त आशीष सिंह बुधवार को काम संभालेंगे। भास्कर से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि इंदौर सफाई में नंबर-1 शहर है। इसे बरकरार रखना ही चुनौती है। शहर में जो विकास कार्य चल रहे हैं, स्मार्ट सिटी के काम हो रहे हैं, जिला प्रशासन और पुलिस के साथ मिलकर उन्हें आगे बढ़ाएंगे। भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इंदौर में जिला पंचायत सीईओ, उज्जैन में निगम कमिश्नर और सिंहस्थ में विशेष रूप से सेवा देने वाले आशीष सिंह ने कहा कि निगम यदि जनता की मूलभूत सुविधाएं समय पर पहुंचा दे तो न जनता परेशान होगी, न नेता। जो काम चल रहे उन्हें पूरा कराना प्राथमिकता होगी।

सुबह दुबे रिलीव हुए और राघवेंद्र सिंह ने संभाला कमिश्नर पद
मंगलवार सुबह साढ़े 10 बजे ही संजय दुबे पीएस श्रम विभाग के लिए इंदौर से रिलीव हो गए। राघवेंद्र सिंह ने संभागायुक्त का पद संभाल लिया। स्टेट टैक्स कमिश्नर बनाए गए डॉ. पवन शर्मा बाहर होने के चलते ज्वाॅइन नहीं कर सके। बिजली कंपनी के एमडी आकाश त्रिपाठी तीन-चार दिन बाद ही रिलीव होंगे।

X
New Indore Municipal Corporation Commissioner will take charge today
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..