इंदौर / पुलिस ने बुलाया तो पता चला कि जहीरुल आतंकी है, पहले बेलदारी करता था, फिर मिस्त्री बन गया



आतंकी जहीरुल शेख आतंकी जहीरुल शेख
NIA arrested accused of bomb blast in Bardhaman in West Bengal from Indore
NIA arrested accused of bomb blast in Bardhaman in West Bengal from Indore
X
आतंकी जहीरुल शेखआतंकी जहीरुल शेख
NIA arrested accused of bomb blast in Bardhaman in West Bengal from Indore
NIA arrested accused of bomb blast in Bardhaman in West Bengal from Indore

  • ठेकेदार नेहरुल मंडल ने बताया- पिछले 2 साल से आतंकी उसके टीम के साथ मकान बनाने का काम कर रहा था
  • पश्चिम बंगाल के वर्धमान बम धमाकों में शामिल आतंकी को इंदौर से किया था गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 03:40 PM IST

इंदौर. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने 11 अगस्त को इंदाैर से जहीरुल शेख नाम के एक आतंकी काे गिरफ्तार किया है। जहीरुल 2014 में पश्चिम बंगाल के वर्धमान में हुए बम धमाकों में शामिल था और बंगाल के आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिदिन का सक्रिय सदस्य है। जहीरुल कई आतंकी कैंप आयोजित करने के साथ ही अपने गिरोह से जुड़े भारत में सक्रिय सदस्यों को बम बनाने और हथियारों की ट्रेनिंग भी करवा चुका है। एनआईए के मुताबिक जहीरुल पश्चिम बंगाल के नडियाल का रहने वाला है। वह लंबे समय से आतंकी घटनाओं में शामिल रहा है। बंगाल के बम ब्लास्ट में नाम आने के बाद वहां से भागकर कुछ समय पहले ही इंदौर के आजाद नगर इलाके में रहने आया था। 


आतंकी यहां रहकर बेलदारी का काम करता था। आतंकी के ठेकेदार नेहरुल मंडल ने बताया कि लगभग दो सालों से वह उसके साथ मकान निर्माण का काम कर रहा था। उसने अपना नाम जहीर बताया था। पहले वह बेलदारी का काम करता था, बाद में मिस्त्री बन गया। मंडल ने बताया कि दो दिन पहले रात करीब 12 बजे उसके मोबाइल पर जहीर का मिस कॉल था।

 

ठेकेदार नेहरूल मंडल

 

मंडल ने जब उसे कॉल बैक किया तो पुलिस ने फोन उठाया और कहा कि सुबह थाने आ जाना। अगले दिन नेहरूल जब थाने गया तो उसे पता चला कि उसके साथ काम करने वाला बेलदार आतंकी है। मंडल का कहना है कि मेरे एक परिचित के नाम पर आतंकी ने बाइक फाइनेंस की थी, जब पता चला की पुलिस उसे उठाकर ले गई है तो हमें लगा की फाइनेंस का मामला होगा।


सब्जी का ठेला लगाकर की रैकी
एनआईए की टीम ने इंदौर आकर जहां आतंकी रहता था उस स्थान की कई दिनों तक रैकी की थी। एनआईए ने सब्जी का ठेला लगाकर आतंकी पर नजर रखी और जब यह कंफर्म हो गया कि यह वहीं आतंकी है जिसकी उन्हें तलाश है तो उसे धर दबोचा गया।

 

यहां रहता था आतंकी


हथगोले बनाने में माहिर है
एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र ने बताया कि जहीरुल बड़े पैमाने पर आतंकी साजिश रचने के साथ ही भारत में अपने सदस्यों के साथ आतंकी गतिविधियों में संलिप्त रहा है। वह हथगोले बनाने में माहिर है। एनआईए को 2014 में जहीरुल के ठिकाने से बड़ी संख्या में एलईडी विस्फोटक और हथगोले बरामद हुए थे। जिसमें कुल 33 आरोपी बनाए थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना