अपराध / पटवारी ने तहसीलदार के नाम से रिश्वत लेने वाले नायब नाजिर को रंगेहाथ पकड़वाया

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • नायब नाजिर ने पहली किश्त के रूप में 5 हजार रुपए पीड़ित से ले लिए थे
  • निलंबित पटवारी के पास शिकायत पहुंची तो उसने लोकायुक्त पुलिस को बताया

दैनिक भास्कर

Feb 14, 2020, 05:33 PM IST

इंदौर. एक पटवारी ने तहसीलदार के नाम से रिश्वत मांगने वाले नायब नाजिर को लोकायुक्त पुलिस के हाथों रंगेहाथ पकड़वाया है। प्राकृतिक आपदा के चलते फसल खराब हो गई थी। इस पर किसानों के नुकसान का प्रतिवेदन बनाकर दिया जाना है। प्रतिवेदन जल्दी बनाकर देने के नाम पर वह 10 हजार रुपए मांग रहा था। तहसीलदार ने इतने रुपए की मांग की है, यह बोलकर वह दबाव बना रहा था।

 
लोकायुक्त पुलिस के मुताबिक पटवारी दिनेश पाटीदार को भी फसल सर्वे के काम में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया गया था। महेश्वर के तहसीलदार के अधीन काम करने वाले नायब नाजिर के द्वारा रिश्वत की मांग निलंबित पटवारी से की जा रही थी। पटवारी के द्वारा लोकायुक्त पुलिस से इसकी शिकायत की गई। शिकायत में बताया गया कि सोलंकी के द्वारा पहली किस्त के पांच हजार रुपए लिए जा चुके हैं। दूसरी किस्त दिए बिना वह काम नहीं करने की बात कह रहा है। योजना बनाकर उसे ट्रैप करना तय किया। शुक्रवार को दफ्तर में जैसे ही उसने रिश्वत की रकम ली, टीम ने उसे पकड़ लिया। उसके खिलाफ केस बनाया गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना