• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • People's trend in India Bangladesh test match less 16 thousand tickets, sold only 7500 in 6 days

भास्कर खास / भारत-बांग्लादेश टेस्ट मैच में लोगों का रुझान कम 16 हजार टिकट, 6 दिन में महज 7500 ही बिके



People's trend in India-Bangladesh test match less 16 thousand tickets, sold only 7500 in 6 days
X
People's trend in India-Bangladesh test match less 16 thousand tickets, sold only 7500 in 6 days

  • 3 नवंबर को ऑनलाइन टिकट बिक्री शुरू हुई थी, साढ़े 8 हजार टिकट और बचे 
     

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2019, 06:27 AM IST

इंदौर . होलकर स्टेडियम में 14 नवंबर से शुरू होने वाले भारत-बांग्लादेश टेस्ट मैच को लेकर दर्शकों का रुझान कम है। एमपीसीए ने 3 नवंबर से टिकटों की ऑनलाइन बिक्री शुरू की थी, लेकिन छह दिन में 16 हजार में से साढ़े 7 हजार टिकट ही ऑनलाइन बिके हैं। रविवार शाम 6 बजे के बाद ऑनलाइन टिकट बिक्री बंद हो जाएगी। शनिवार को दिव्यांग वर्ग की 60 सीटों के लिए टिकट बिक्री शुरू हुई।

 

शुरुआती एक घंटे में सिर्फ एक ही दर्शक टिकट खिड़की तक पहुंचा। दिनभर में 15 टिकट ही बिके। अब दिव्यांग वर्ग के बचे टिकट रविवार सुबह 11 बजे से बेचे जाएंगे। मैच के मैदानी अंपायर रविवार शाम इंदौर पहुंचेंगे। दक्षिण अफ्रीका के मराइस इरास्मस आैर वेस्टइंडीज के जोएल विल्सन मैदानी अंपायर हैं। इरास्मस, विल्सन और ऑस्ट्रेलिया के रॉड टकर रविवार शाम इंदौर पहुंचेंगे। टकर तीसरे अंपायर होंगे। अनिल चौधरी चौथे अंपायर आैर श्रीलंका के रंजन मदुगले मैच रैफरी होंगे।

 

भतीजे की गोद में टिकट लेने पहुंचीं 24 वर्षीय पूजा

दिव्यांग वर्ग का टिकट खरीदने वीणा नगर की 24 साल की पूजा शर्मा भी पहुंचीं। पूजा की बीमारी के कारण जन्म से ही हडिड्यां कमजोर थीं। हालात ऐसे थे कि जब छोटी थीं, तब गोद में लेने पर हडि्डयां टूट जाती थीं। पूजा विराट कोहली की फैन हैं। वे पहली बार स्टेडियम में मैच देखेंगी। वहीं पेशे से शिक्षक राजेश साहू ने दिव्यांग वर्ग का पहला टिकट खरीदा। राजेश ने होलकर स्टेडियम में हुए सभी वनडे, टी-20, टेस्ट आैर आईपीएल मैच देखे हैं।

 

दो घंटे में पानी सोख लेगी सुपर सॉपर मशीन
बारिश के दौरान पूरे मैदान को ढंकने के लिए कवर्स हैं। ब्रिटेन से विशेष कवर भी बुलाया है। यह हलका होता है। धूप निकलने पर यदि अन्य कवर नहीं हटाए जाएं तो घास पीली हो सकती है। लेकिन इस कवर के साथ ऐसा नहीं होता। सुपर सॉपर मशीनें भी हैं, जिनसे दो घंटे में मैदान को खेलने लायक बनाया जा सकता है। मैच उसी पिच पर होगा, जिस पर लगातार दो साल रणजी ट्रॉफी फाइनल मुकाबला खेला गया है। पिच क्यूरेटर समंदर सिंह चाैहान ने बताया, स्पोर्टिंग विकेट तैयार किया गया है। दोनों टीमों को मदद मिलेगी।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना