खुलासा / रेस्टोरेंट में कैमरे लगाने वाला ही निकला चोर, खुद के लगाए कैमरों में ही चोरी करते हुआ कैद



सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए चोर। सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए चोर।
X
सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए चोर।सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए चोर।

  • राऊ थाना क्षेत्र का मामला, तीन दिनों तक एक-एक कर सामान ले गए थे चोर
  • दूसरे आरोपी की पत्नी रेस्टोरेंट में काम करती थी, होटल बंद होने पर सामान एक रूम में रखा था

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2019, 04:30 PM IST

इंदाैर. राऊ थाना क्षेत्र स्थित एक रेस्टोरेंट में चोरी करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी कोई और नहीं रेस्टोरेंट में काम करने वाली एक महिला का पति और कैमरे इंस्टाॅल करने वाला युवक निकला। पुलिस ने इनके पास से एलसीडी सहित रेस्टोरेंट से चोरी गया लाखों रुपए का सामान बरामद कर लिया है। आरोपी उसी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पकड़ाया, जिसे उसने ही होटल में लगाया था।

 

एडिशनल एसपी प्रशांत चौबे ने बताया कि फरियादी देवेंद्र कुमार ठाकुर निवासी स्वास्थ्य विहार कॉलोनी ने 2 अक्टूबर को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके भोजनालय का ताला तोड़कर चोर एलईडी सहित एक लाख रुपए का सामान चुरा कर ले गए हैं। द्वारकापुरी पुलिस ने चोरी का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की। क्षेत्र में सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो दो संदिग्ध युवक भोजनालय में चोरी करते हुए दिखाई दिए। 

 

पुलिस ने मामले में नीरज पिता चंद्रशेखर निवासी मालवीय नगर और लोकेश पिता रतिलाल यादव निवासी यादव मोहल्ला महू को पकड़ा। सख्ती से पूछताछ की तो दोनों टूट गए और उन्होंने भोजनालय में चोरी करने की वारदात कबूली। पुलिसने उनके पास से चुराया गया माल भी बरामद कर लिया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है।

 

पुलिस ने बताया कि नीरज सीसीटीवी इंस्टॉल करने का काम करता है। जब फरियादी ने होटल खोला था तो नीरज ने ही सीसीटीवी लगाए थे। वहीं लोकेश की पत्नी रेस्टोरेंट में काम करती थी। इसलिए दोनों आरोपियों को रेस्टोरेंट के बारे में पूरी जानकारी थी। रेस्टोरेंट नहीं चलने के बाद मालिक ने एक कमरे में पूरा सामान रख दिया था। इन्हें लगा कि रेस्टोरेंट बंद होने के बाद सीसीटीवी कैमरे बंद हो गए होंगे, जिसके बाद इन्हांेने तीन दिन में सारा सामान चुरा लिया। इसके बाद सीसीटीवी चेक करने पर आरोपी गिरफ्त में आ गए। 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना